जो उम्मीदवार टीचर बनना चहते हैं उनको बता दें कि वे टीचर बनने के लिए डी. एल. एड कर सकते हैं। जी हां, डी. एल. एड करने के बाद आप टीचर बन सकते हैं। अगर आप डीएलएड करने की सोच रहें हैं तो आपको D.L.Ed की पूरी जानकारी होनी चाहिए। और आपके मन में ये सवाल जरुर आता होगा कि डी. एल. एड का स्कोप क्या है या डी.एल.एड परीक्षा पास करने बाद आप टीचर कैसे बनते हैं। आप ये भी सोचते हैं कि डी. एल. एड करने के बाद आपको कितनी सैलरी मिलेगी। तो आज के हमारे इस आर्टिकल में हम आपको डीएलएड से जुडी सारी जानकारी देंगे। जासे कि आप डी. एल. एड कैसे करें, डी. एल. एड करने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिेए आदि।

नया :

डी.एल.एड (D.L.Ed) कोर्स क्या है ?

आप सभी जानते हैं कि टीचर का काम कितनी जिम्मेदारी का होता है क्योंकि उनको एक बच्चे को पढ़ाना होता है, एक बच्चे को शिक्षा देनी होती है। और एक प्राइमरी स्कूल के बच्चे को पढ़ाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए सरकार ने प्राइमरी के बच्चों को पढ़ाने के लिए बहुत कोर्स बनाये है जिनको करने के बाद आप एक प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) बन सकते हैं। इन्ही कोर्सों में से एक कोर्स डी. एल. एड है। जब आप डी. एल. एड करेंगे तब उसमें आपको बच्चो को पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी जाएगी। आपको सिखाया जाएगा कि बच्चो को कैसे पढ़ाना है ?, बच्चो को पढ़ाने का लेटेस्ट मैथेड (Latest Method) क्या होता है ? आपको बता दें कि DLED, 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है। डी. एल. एड करने के बाद आप एक अध्यापक बन सकते हैं। आपको बता दें कि यूपी में पहले डी. एल. एड को बीटीसी कहते थे। अब 2017 से बीटीसी को डी. एल. एड(D.L.ED) कहा जाने लगा है। डीएलएड यूपी में प्रति वर्ष बहुत अधिक संख्या में उम्मीदवार डी एल एड परीक्षा देते हैं। डी. एल. एड का फुल फॉर्म है डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन। आपको ये भी बता दें कि डिप्लोमा इन एलीमेंटरी एजुकेशन करने के बाद आपको टेट या सीटेट भी पास करना होगा आप तभी सरकारी अध्यापक बन सकते हैं।

डी. एल. एड (DELED) करने के लिए योग्यता / बी टी सी के लिए योग्यता

जो उम्मीदवार डी. एल. एड करना चाहते हैं उनको बता दें कि डी. एल. एड करने के लिए आपकी

शैक्षिक योग्यता: डी.एल.एड एक 2 साल का फ़ुल-टाइम डिप्लोमा कोर्स है जो 4 सेमेस्टर में बांटा गया है। जिन्होंने किसी भी क्षेत्र में सफलतापूर्वक (बीए, बीएससी, बीकॉम, बीसीए, बीबीए, बीटेक) पूरा किया है। कला, विज्ञान और वाणिज्य के छात्र भी आवेदन करने के लिए पात्र हैं।

आयु सीमा: आपको बता दें कि पुरुष और महिला दोनों के लिए है आयु सीमा एक ही है।

न्यूनतम आयु: – 18 वर्ष
अधिकतम आयु: – 35 वर्ष

बी टी सी प्रवेश प्रक्रिया

जो उम्मीदवार डी. एल. एड करना चाहते हैं उनको बता दें कि डी.एल.एड में प्रवेश के लिए चयन प्रक्रिया मेरिट लिस्ट के आधार पर और कट ऑफ मार्क्स पर होती है। यानी कि आपके 10 वीं, 12 वीं और स्नातक के प्रतिशत के आधार पर आपको डी. एल. एड करने के लिए कॉलेज मिलेगा। आपकी काउंसलिंग होगी और उसके बाद बाद आपको कॉलेज मिलेगा। और 2 वर्ष तक आपकी पढाई चलेगी।

डीएलएड कोर्स फीस

डी. एल. एड करने के लिए आपको ज्यादा फीस का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। अगर आप डी. एल. एड किसी गवर्नमेंट कॉलेज से करते है तो आपको डीएलएड कोर्स फीस न्यूनतम 10 हजार रूपये देनी होगी और अगर आप किसी प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो आपको डीएलएड कोर्स फीस न्यूनतम 41 हजार रूपये के करीब भरनी पड़ सकती है। अलग-अलग कॉलेज के लिए डीएलएड कोर्स फीस अलग-अलग भी हो सकती है।

परामर्श प्रक्रिया

योग्य उम्मीदवारों को बीटीसी (BTC) परामर्श के लिए बुलाया जाएगा। बोर्ड काउंसिलिंग का संचालन करेगा और चयन करने वाले उम्मीदवारों को परामर्श पत्र आवंटन पत्रों का प्रिंट आउट प्राप्त करने में सक्षम होगा। उम्मीदवारों को कॉलेज में आवंटन पत्र और अन्य निर्धारित दस्तावेजों के उत्पादन के बाद ही अपनी पसंद के कॉलेज में भर्ती कराया जाएगा।

डी एल एड कोर्स सिलेबस

डीएलएड में इच्छुक अभियार्थी नीचे दी गयी सारिणी से डीएलएड पाठ्यक्रम प्राप्त कर सकते हैं जो की लगभग सभी कॉलेज में एक सा ही होता है। जो पाठ्यक्रम बीटीसी कोर्स में निर्धारित था वही डीएलएड के लिए भी है, पाठ्यक्रम में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है। 

वर्ष I वर्ष II
बचपन और बच्चों के विकास संज्ञान, सामाजिक सांस्कृतिक संदर्भ
समकालीन समाज शिक्षक पहचान और स्कूल संस्कृति
शिक्षा, समाज नेतृत्व और परिवर्तन
स्वयं को समझने के लिए पर्यावरण अध्ययनों की अध्यापन
शिक्षा शास्त्र अंग्रेजी भाषा का
प्राथमिक के लिए गणित की शिक्षा विविधता और शिक्षा
अंग्रेज़ी में महारत स्कूल स्वास्थ्य और शिक्षा
कार्य एवं शिक्षा ललित कला और शिक्षा
इंटर्नशिप इंटर्नशिप

21 टिप्पणी

    • फॉर्म के लिए परसेंटेज कितने भी हो आप फॉर्म भर सकते हैं, सिर्फ चयन के लिए आपको अपने का उपयोग होगा क्योकि मेरिट लिस्ट उसी के आधार पर बनेगी।

Leave a Reply