जो उम्मीदवार दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रवेश पाना चाहते हैं उनको बता दें कि दिल्ली विश्वविद्यालय प्रवेश 2018 के लिए आवेदन आज से यानी कि 15 मई 2018 को कर सकते हैं। साथ ही आपको ये भी बता दें कि अॉनलाइन आवेदन पत्र भर सकते हैं।  दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन आज से शुरू होने वाले अपने संबद्ध कॉलेजों में विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान किसी तकनीकी गलती से बचने के लिए सभी प्रयास कर रहा है। पिछले साल, ऑनलाइन पोर्टल में तकनीकी गलती प्रवेश प्रक्रिया में से एक दिन से सामने आई थी। वेबसाइट का सर्वर नीचे चला गया और कई उम्मीदवार पोर्टल तक पहुंचने में असफल रहे।

डीयू के प्रोफेसर व पूर्व छात्रों के साथ बनाई गई काउंसलर्स की टीम देगी छात्रों के सवालों का जवाब

डीयु में प्रवेश को लेकर सभी उम्मीदवारों और अनके परिजनों के मन में काफी सवाल हैं। जिन सवालों का जवाब कोई और नहीं खुद डीयू के प्रोफेसर व पूर्व छात्रों के साथ बनाई गई काउंसलर्स की टीम देगी। डीयू प्रशासन की तरफ से ओपन डेज का आयोजन किया जाएगा। आपको बता दें कि डीयू के नॉर्थ कैंपस में स्थित कांफ्रेंस सेंटर में 21 मई 2018 से 29 मई 2018 तक रविवार को छोड़कर रोज ओपन डेज का आयोजन किया जाएगा। ओपन डेज दो सत्रों में होगा। पहला सत्र सुबह 10 बजे से साढ़े ग्यारह बजे तक और दूसरा सत्र 12 बजे से डेढ़ बजे तक आयोजित होगा।

ये भी पढ़ें – दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रवेश के लिए शुरू हुए आवेदन।

इस ओपन डेज आयोजन में न सिर्फ छात्र बल्कि उनके अभिभावक भी हिस्सा ले सकते हैं। प्रवेशको लेकर सभी छात्रों के मन में काफी सवाल होते हैं। तो इस ओपन डेज आयोजन में छात्रों के सारे सवाल चाहे वे विषय को लेकर दाखिले से संबंधित हों या और कोई उन सभी सवालों के जवाब डीयू के प्रोफेसर व पूर्व छात्रों का टीम देगा। छात्रों को सारी जानकारी उपलब्ध कराएगी। ओपन डेज 29 मई 2018 को खत्म हो जाएगा। जिसके बाद कॉलेज स्तर पर ओपन डेज का आयोजन किया जाएगा। हालांकि इसकी तिथि व समय अभी तक घोषित नहीं की गई है। लेकिन जल्द ही की जाएगी।

अब राज्य व जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले उम्मीदवार ही डीयू स्पोर्ट्स कोटे से दाखिले के लिए कर पाएंगे आवेदन

साथ ही आपको बता दें कि अगर आप स्पोर्ट्स कोटे से आवेदन करने जा रहे हैं, तो एस बात का जरूर ध्यान रखें कि इस साल नियमों में बदलाव किया गया है। जी हां आपको बता दें कि अब राज्य स्तर तक खेलकूद में पहला, दूसरा और तीसरा पुरस्कार प्राप्त करने वाले ही भाग ले पाएंगे। आपको बता दें कि पहले स्नातक के मेरिट आधारित पाठ्यक्रमों में स्पोर्ट्स कोटे से दाखिले के लिए चार स्तरीय प्रतियोगिताओं के छात्रों को प्राथमिकता दी जाती थी है। जिसके तहत अभी तक अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्य स्तरीय व जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं में भाग करने वाले छात्रों के लिए अलग-अलग अंक आवंटित होते थे। लेकिन अगर अब हम नए नियमों की बात करें तो नए नियमों के तहत अब राज्य व जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले उम्मीदवार को ही डीयू स्पोर्ट्स कोटे से दाखिले के लिए आवेदन करने की अनुमति है।

Leave a Reply