रेलवे ग्रुप डी की परीक्षा की तैयारी कर रहें उम्मीदवारो को जानना जरुरी है कि उनका चयन कितने चरणों में होगा और आखिर उन्हें ग्रुप डी के पद पर नौकरी के लिए किन किन चरणों से गुज़रना होगा और यह चरण किस प्रकार के होंगे। तो आज के इस आर्टिकल में हम आप सबको यही बताने जा रहे हैं कि ग्रुप डी की चयन प्रक्रिया क्या है और कैसी है जिससे कि आपको परीक्षा के बारे में सही और पूरी जानकारी हो जाये और आप अपनी तैयारी अच्छे से कर पाए और ग्रुप डी के पद पर नौकरी ले पाए।

ग्रुप डी चयन प्रक्रिया 2018

ग्रुप डी परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को आज हम ग्रुप डी के चयन से सम्बन्धित सारी महत्वपूर्ण बातें और चयन के लिए उन्हें कितने चरणों से गुज़रना होगा यही सब बताने वाले हैं। उम्मीदवार इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें क्योंकि इससे उन्हें ग्रुप डी की परीक्षा पास करने में बहुत सहायता होगी।

तो हम आपको बता दें कि ग्रुप डी की परीक्षा में तीन चरण होते हैं।

  1. कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT)
  2. फिजिकल दक्षता टेस्ट (PET)
  3. डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन फॉर सेलेक्टड कैंडिडेट्स

अब आपको इन चरण के बारे में एक एक करके बताते हैं ,कि किस चरण में क्या पूछा जाता है या फिर किस तरीके की एक्टिविटीज करनी होंगी।

  1. कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT)
Sr. No. विषय  कुल प्रश्न संख्या  कुल समय 
1 गणित 100 90 Minutes
2 सामान्य खुफिया और तर्क
3 सामान्य विज्ञान
4 सामान्य जागरूकता
  • नेगेटिव मार्किंग : आप यह भी जान लें कि ग्रुप डी की पहले चरण की परीक्षा जो कि कंप्यूटर बेस्ड है जिसमें वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे और इस चरण में नेगेटिव मार्किंग भी होगी यानि अगर आपका कोई सवाल गलत होता है तो आपके नंबर काटे जायेंगे। प्रत्येक प्रश्न के लिए आवंटित अंकों के 1/3 को गलत उत्तर के लिए काटा जाएगा।

2 . फिजिकल दक्षता टेस्ट (PET)

इस चरण में अभियर्थी की फिजिकल दक्षता की परीक्षा की जाएगी। इस चरण में केवल वही उम्मीदवार बुलाये जायेंगे जो कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा में पास होंगे ,उम्मीदवार को इस चरण में भी पास होना जरुरी होगा अगर वे ग्रुप डी के पद पर नौकरी चाहते हैं।हालाँकि इस चरण को केवल पास करना जरुरी है। इस टेस्ट में महिलाओं और पुरुष के मानक अलग अलग होंगे जो की कुछ इस प्रकार होंगे।

S. No. पुरुष अभियर्थी  महिला अभियर्थी 
1. वज़न कम किए बिना एक मौके में 2 मिनट में 100 मीटर की दूरी के लिए 35 किलो वजन उठाने और ले जाने में सक्षम होना चाहिए। वज़न कम किए बिना एक मौके में 2 मिनट में 100 मीटर की दूरी के लिए 20 किलो वजन उठाने और ले जाने में सक्षम होना चाहिए।
2. एक मौके में 4 मिनट और 15 सेकंड में 1000 मीटर की दूरी के लिए दौड़ने में सक्षम होना चाहिए। एक मौके में 5 मिनट और 40 सेकंड में 1000 मीटर की दूरी के लिए दौड़ने में सक्षम होना चाहिए.
  • PH श्रेणी के अंतर्गत आने वाले उम्मीदवारों को फिजिकल दक्षता परीक्षा की छूट है वे कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट के बाद सीधे मेडिकल वेरिफिकेशन के लिए बुलाये जायेंगे।

3. डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन 

सबसे अंत में उम्मीदवारों को इस चरण से गुज़रना होता है इस चरण में केवल उन उम्मीदवारों को बुलाया जाता है जो पिछले दो चरण में पास हुए होते हैं।इस चरण में रेलवे भर्ती बोर्ड ने उम्मीदवारों से जो भी दस्तावेज़ मांगे होते हैं उन्हें वे सब इस चरण में लेकर जाने होते हैं इसके बाद ही उनका फाइनल सिलेक्शन होता है और उन्हें ग्रुप डी के पद पर नियुक्त किया जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here