सीबीएसई ने घोषणा की है की वह यू जी सी नेट 2018 की परीक्षा पिछले वर्षों की भाँति ही इस वर्ष भी 2 परीक्षा आयोजित कराएगी। इस वर्ष जुलाई में, यूजीसी-राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (एनईटी) इस साल की पहली परीक्षा आयोजित करेगी लेकिन CBSE ने एक बहुत बड़ा बदलाव यह किया है की पिछले वर्षों की भांति इस वर्ष नेट 2018 में 3 पेपर की बजाय परीक्षा में सिर्फ 2 ही पेपर होंगे जिसके लिए उम्मीदवार के पास सिर्फ 3 घंटे का ही टाइम होगा।

साल दो बार ही आयोजित की जाएगी यूजीसी नेट की परीक्षा।

UGC NET में जूनियर रिसर्च फेलो (जेआरएफ) के पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए सीबीएसई ने आयु सीमा में भी राहत दी है। इस वर्ष से यूजीसी NET २०१८ में जेआरएफ के लिए अधिकतम आयु 28 वर्ष के बजाय 30 वर्ष कर दिया है।

नेट परीक्षा भारत वर्ष में विश्वविद्यालयों या महाविद्यालयों में लेक्चरर बनने के लिए आयोजित होने वाली सबसे महत्वपूर्ण परीक्षा है। इसमें परीक्षा का सबसे बड़ा उद्देश्य सबसे योग्य उम्मीदवार का चुनाव करना होता है जो की विश्वविद्यालयों में अच्छी शिक्षा प्रदान कर सके। इस साल 8 जुलाई को सीबीएसई यूजीसी एनईटी 2018 की परीक्षा आयोजित करने वाला है।

08 जुलाई 2018 को होगी नेट 2018 की लिखित परीक्षा।

नए परीक्षा पैटर्न के अनुसार, नेट के लिए दो पेपर होंगे: पेपर में सीबीएसई, उम्मीदवारों की शैक्षणिक क्षमता, योग्यता और दृष्टिकोण का परीक्षण करने के लिए उद्देश्यपूर्ण प्रश्नों का समावेश करेगा। पहले पेपर के लिए उम्मीदवारों को 50 प्रश्नों के पेपर को समाप्त करने के लिए एक घंटे तथा दूसरे पेपर के लिए, उम्मीदवारों को 100 प्रश्नों के लिए दो घंटे का समय दिया जायेगा।

उम्मीदवार प्रश्न-अंक वितरण और नीचे दी गई तालिका से विवरणों की जांच कर सकते हैं:

पेपर प्रश्नों की संख्या  कुल मार्क्स प्रश्नों क प्रकार
I 50 100 तर्क क्षमता, समझ, भिन्न विचार और सामान्य जागरूकता
II 100 100 विषय विशिष्ट
कुल 150 200

यूजीसी नेट परीक्षा 2018 की अधिक जानकारी के लिए आप यहाँ प्राप्त कर सकते हैं। 

Leave a Reply