बिहार लोक सेवा आयोग ने 16 दिसंबर 2018 को बिहार पीसीएस प्रिलिम परीक्षा का आयोजन किया गया था। जिसकी अनाधिकृत उत्तर कुँजी विभिन्न कोचिंग सेंटर द्वारा जारी कर दी गयी हैं। बीपीएससी अनाधिकृत उत्तर कुंजी सोशल मीडिया फेसबुक और यूट्यूब आदि जैसे विभिन्न स्रोतों पर प्रकाशित की गई है। बीपीएससी 64वीं आंसर की के द्वारा उम्मीदवार आसानी से अपने अंकों का अनुमान लगा सकते हैं।

बीपीएससी 64वीं प्रीलीम्स परीक्षा 16 दिसंबर को 12 बजे से 02 बजे तक आयोजित की गयी। बीपीएससी प्रीलिम परीक्षा में 150 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे गए थे जिनके लिए कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं थी। आपको बता दें कि प्रत्येक प्रश्न के लिए पांच विकल्प दिए गए थे। 64 वीं बीपीएससी की 1465 सीटों के लिए बीपीएससी प्रीलिम परीक्षा का आयोजन किया गया था। बीपीएससी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर 6 – 7 दिन के अंदर उत्तर कुंजी जारी कर देगी।

बिहार लोक सेवा आयोग ने 16 दिसंबर 2018 को बिहार पीसीएस प्रिलिम परीक्षा का आयोजन किया गया था। जिसकी अनाधिकृत उत्तर कुँजी विभिन्न कोचिंग सेंटर द्वारा जारी कर दी गयी हैं। बीपीएससी अनाधिकृत उत्तर कुंजी सोशल मीडिया फेसबुक और यूट्यूब आदि जैसे विभिन्न स्रोतों पर प्रकाशित की गई है। बीपीएससी 64वीं आंसर की के द्वारा उम्मीदवार आसानी से अपने अंकों का अनुमान लगा सकते हैं। बिहार लोक सेवा आयोग परीक्षा के कुछ दिन बाद ही आधिकारिक वेबसाइट पर अपनी उत्तर कुंजी जारी कर देगा।

बीपीएससी 64वीं प्रीलीम्स परीक्षा 16 दिसंबर को 12 बजे से 02 बजे तक आयोजित की गयी। बीपीएससी प्रीलिम परीक्षा में 150 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे गए थे जिनके लिए कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं थी। आपको बता दें कि प्रत्येक प्रश्न के लिए पांच विकल्प दिए गए थे। 64 वीं बीपीएससी की 1465 सीटों के लिए बीपीएससी प्रीलिम परीक्षा का आयोजन किया गया था। बीपीएससी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर 6 – 7 दिन के अंदर उत्तर कुंजी जारी कर देगी।

बीपीएससी 64वीं मुख्य परीक्षा में शामिल होने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 40%, पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों को 36.5%, अत्यंत पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों को 34% एवं एससी/एसटी उम्मीदवारों, महिला उम्मीदवारों और विकलांग उम्मीदवारों के लिए 32% अंक प्रारंभिक परीक्षा में हासिल करना होगा।

बिहार पीएससी 64वीं प्रिलिम परीक्षा में सफल उम्मीदवार मुख्य परीक्षा के लिए चुने जायेंगे। उत्तीर्ण उम्मीदवार को मुख्य परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन पत्र तथा आवेदन शुल्क भरना होगा। बता दें कि बीपीएससी मुख्य परीक्षा के लिए विषय उम्मीदवारों ने प्रारंभिक परीक्षा के लिए आवेदन करते समय ही चुना होगा जो कि बदला नहीं जा सकता है।

बीपीएससी मुख्य परीक्षा में उम्मीदवारों को अपने द्वारा चुने गए वैकल्पिक विषय की लिखित परीक्षा देनी होगी। जो उम्मीदवार मुख्य परीक्षा में सफल होंगे उन्हें भर्ती के अगले चरण में बुलाया जायेगा। भर्ती की अंतिम प्रक्रिया साक्षात्कार यानी की इंटरव्यू है, जिसमे उम्मीदवारों के द्वारा दिए गए सभी प्रमाण पत्रों की जाँच की जाएगी।

आपको बता दें कि बीपीएससी 64वीं भर्ती 2018 के लिए आवेदन प्रक्रिया 03 अगस्त 2018 से शुरू हुई थी। 64वीं बीपीएससी 2018 में शामिल होने वाले उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु 20 वर्ष होनी चाहिए तथा अनारक्षित वर्ग के उम्मीदवारों की अधिकतम आयु 37 वर्ष होनी चाहिए। इसके अलावा उम्मीदवारों को परीक्षा में शामिल होने के लिए स्नातक होना आवश्यक है।

बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) बिहार राज्य में आवेदकों की योग्यता के अनुसार सिविल सेवा नौकरियों के लिए आवेदकों का चयन करती है। बीपीएससी सिविल परीक्षा के साथ-साथ बहुत सारी परीक्षाओं का आयोजन करता है। बीपीएससी का गठन 1 नवंबर 1956 में किया गया था।

अपने विचार बताएं।