abvhv admission 2019

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय एक ऐसा विश्वविद्यालय जिसका उद्देश्य है “हिंदी भाषा का अध्ययन, प्रशिक्षण, ज्ञान की वृद्धि और प्रसार के लिए तथा विज्ञान साहित्य, कला और अन्य विद्याओं में उच्चस्तरीय गवेषणा के लिए शिक्षण का माध्यम बनाना है।” यह विश्वविद्यालय हिंदी भाषा के साथ ज्ञान के सभी अनुसाशनों के अध्ययन, अध्यापन एवं शोध कराने वाला प्रथम विश्वविद्यालय है। यहाँ विद्यार्थियों के लिए हिंदी भाषा में प्रशिक्षण, प्रमाण पत्र, पत्रोपाधि, स्नातक, स्नाकोत्तर, एमफिल, पीएचडी, डीलिट व डीएससी जैसे अनेक उपाधि कार्यक्रम कराता है। अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय जल्द ही वर्ष 2019 के लिए एडमिशन प्रक्रिया शुरू करने वाला है। जिन छात्रों को हिंदी भाषा से प्रेम है और जिन छात्रों ने हिंदी भाषा से अपनी शिक्षा पूरी की है ऐसे छात्रों के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी है। हिंदी भाषी छात्र अटल बिहारी बाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय में 2019 की एडमिशन प्रक्रिया में भाग ले सकते हैं।

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय में विभिन्न संकाय और विभाग हैं जिनमें छात्र प्रवेश लेकर हमारी राष्ट्र भाषा हिंदी में अपनी शिक्षा को आगे बड़ा सकते हैं। इस विश्वविद्यालय में कला संकाय, आधारभूत संकाय, जीव विज्ञान संकाय, वाणिज्य एवं प्रबंधन संकाय, समाज विज्ञान संकाय, विधि संकाय, भाषा अध्ययन एवं विधि संकाय, कृषि संकाय, अभियांत्रिकी संकाय, आयुर्विज्ञान संकाय, पत्रकारिता एवं जनसंचार संकाय, नाट्य एवं दृश्य श्रव्य संकाय, प्राच्य विद्या संकाय, ललित कला संकाय, संगणक विज्ञान संकाय, शिक्षा संकाय, औषधीय निर्माण संकाय, गृह विज्ञान संकाय, कौशल विकास संकाय हैं जिनमें छात्रों को शिक्षा प्रदान की जाती है।

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय में अंडर ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, डिप्लोमा और अन्य पाठ्यक्रम के विभिन्न कोर्स बीए, बीएससी, एमएससी, एमफिल, पीएचडी, खाद्य सुरक्षा एवं प्रबंधन, मौसम विज्ञान, वैदिक गणित, एमए, एलएलएम, जैविक कृषि एवं प्रौद्यौगिकी प्रबंधन, जैविक कृषि एवं जर्नलिज्म (बीए, एमए) आदि कोर्स संचालित करते हैं।

छात्रों को जानकारी दे दें कि अभी अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय ने एडमिशन 2019 के लिए तिथिओं को निर्धारित नहीं किया है। जैसे ही विश्वविद्यालय तिथिओं को निर्धारित करेगा छात्र हमारे पेज से एडमिशन प्रक्रिया की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। इसके साथ छात्र अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org पर जाकर भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। विश्वविद्यालय से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तिथियों की जानकारी छात्र हमारे पेज पर नीचे दी गई टेबल से भी प्राप्त कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण तिथियां

कार्यक्रम महत्वपूर्ण तिथियां
आवेदन शुरू होने की तिथि ( ऑनलाइन/ऑफ़लाइन ) घोषित की जाएगी
आवेदन की अंतिम तिथि घोषित की जाएगी
प्रवेश पत्र जारी होने की तिथि घोषित की जाएगी
परीक्षा की प्रस्तावित तिथि घोषित की जाएगी
परिणाम जारी होने की तिथि घोषित की जाएगी

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019 आवेदन पत्र

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन प्रक्रिया 2019 के लिए जल्दी ही अधिसूचना जारी करेगा। छात्रों को सबसे पहले एडमिशन के लिए आवेदन करना होगा। छात्रों को प्रवेश के लिए आवेदन ऑनलाइन और ऑफ़लाइन दोनों तरह से करना होगा। छात्रों को आवेदन प्रक्रिया में भाग लेने के लिए सबसे पहले अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org पर जाना होगा। जहां पर छात्रों को बायीं तरफ एक बॉक्स दिखाई देगा जिसमें छात्रों को “ऑनलाइन आवेदन करें” लिखा हुआ दिखाई देगा छात्र उस पर क्लिक करेंगे जिससे एक नया पेज ओपन हो जायेगा। जिसमें छात्रों को नामांकन फॉर्म लिखा हुआ दिखाई देगा छात्र उसके सामने “क्लिक करें” पर क्लिक कर देंगे जिससे नामांकन फॉर्म खुल जायेगा। छात्र उसमें पाठ्यक्रम जो कोर्स वो करना चाहते हैं को चुनेंगे और पाठ्यक्रम आवेदन संख्या के आगे भर देंगे और जन्मतिथि भर देंगे और उसके बाद कैप्चा कोड भरकर नीचे “खोजें” पर क्लिक कर देंगे। जिससे छात्रों की नामांकन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। उसके बाद छात्रों को नामांकन प्रिंट निकालने के लिए नामांकन रशीद पर क्लिक करना होगा जिसमें विश्वविद्यालय द्वारा मांगी गई जानकारी भरकर छात्र और कैप्चा कोड भरकर खोजें पर क्लिक करेंगे जिससे उनका नामांकन पेज नए पेज में खुल जायेगा जहां से छात्र उसे प्रिंट कर सकते हैं।

आधिकारिक वेबसाइट : www.abvhv.org

छात्रों को बता दें कि वे आवेदन करते समय विश्वविद्यालय द्वारा आवेदन फीस भरना न भूलें नहीं तो ऐसे आवेदन अधूरे माने जायेंगे और ऐसे आवेदन स्वतः ही निरस्त हो जायेंगे। आवेदन फीस भरने के लिए छात्र प्रवेश शुल्क भुगतान रशीद पर जाकर फीस भर सकते हैं और भुगतान की रशीद प्रिंट कर लें।

छात्रों द्वारा आवेदन पत्र भरने और फीस भुगतान करने के बाद आवश्यक दस्तावेजों के साथ विश्वविद्यालय में प्रेषित कर अपने आवश्यक दस्तावेजों के साथ सत्यापन कराना अनिवार्य है नहीं तो ऐसे फॉर्म निरस्त माने जायेंगे। छात्र ध्यान रखें की आवेदन पत्र भरते समय फीस जरूर भरें।

छात्रों को सत्यापन हेतु विभिन्न डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होगी :

  • हाई स्कूल मार्कशीट और प्रमाण पत्र
  • इंटरमीडिएट मार्कशीट और प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • ट्रांसफर सर्टिफिकेट
  • चरित्र प्रमाण पत्र
  • प्रवेश परीक्षा प्रवेश पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र (आरक्षण के लिए)

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019 प्रवेश पत्र

आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र जारी करेगा। प्रवेश पत्र विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट पर जारी किये जायेंगे जहां से छात्र इसे डाउनलोड कर सकते हैं। परीक्षा के समय छात्र प्रवेश पत्र की प्रति साथ लेकर जाएं नहीं तो ऐसे छात्र परीक्षा नहीं दे पाएंगे। छात्र ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org के साथ साथ हमारे पेज पर दिए गए लिंक से भी प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकेंगे। जैसे ही प्रवेश पत्र से जुड़ी कोई भी जानकारी विश्वविद्यालय जारी करेगा छात्र हमारे पेज को पढ़कर पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019 परीक्षा

जिन छात्रों ने आवेदन प्रक्रिया पूर्ण कर ली होगी वे छात्र आवेदन का ऑफ़लाइन वेरिफिकेशन कराएंगे। उन छात्रों को हिंदी विश्वविद्यालय प्रवेश पत्र जारी करेगा। उसके बाद विश्वविद्यालय छात्रों की परीक्षा का आयोजन करेगा। अभी अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय ने प्रवेश परीक्षा के लिए तिथि को जारी नहीं किया है। जैसे ही विश्वविद्यालय तिथियां जारी करेगा छात्र हमारे पेज से उन तिथियों की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे साथ ही छात्र विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org पर जाकर भी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

छात्र परीक्षा की जानकारी के लिए सबसे पहले अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट  www.abvhv.org पर जायेंगे जहां ऊपर ही छात्रों को अकादमिक का बॉक्स दिखाई देगा। छात्र उस बॉक्स पर क्लिक करेंगे जिससे नए ऑप्शन खुलकर सामने आ जायेंगे। छात्रों को उनमें से प्रवेश के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा जिससे एक नया पेज ओपन हो जायेगा। जिसमें छात्रों को परीक्षा के बारे में जानकारी उपलब्ध करा दी जाएगी। जहां पर क्लिक करके छात्र परीक्षा के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019 परिणाम

छात्रों की परीक्षा सम्पन्न होने के कुछ दिन बाद अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय परीक्षा के परिणाम घोषित करेगा। छात्र परिणाम विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org से प्राप्त कर सकेंगे। छात्र परिणाम प्राप्त करने के लिए हमारे पेज पर दिए गए लिंक का प्रयोग भी कर सकते हैं।

छात्रों को परिणाम जानने के लिए सबसे पहले विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org पर जाना होगा जिससे विश्वविद्यालय की वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जायेगा। होम पेज पर छात्रों को ऊपर ही अकादमिक का एक छोटा सा बॉक्स दिखाई देगा जिस पर छात्र क्लिक करेंगे। अकादमिक पर क्लिक करने से छात्रों के सामने कुछ ऑप्शन खुलकर सामने आ जायेंगे। उसमें से छात्रों को प्रवेश के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। जिससे एक नया पेज खुल जायेगा। छात्रों को उसमें विभिन्न सूचनाओं में से प्रवेश परीक्षा परिणाम पर क्लिक करना होगा। जिससे छात्रों का परिणाम खुल कर सामने आ जायेगा और छात्र वहां से अपना परिणाम सेव और डाउनलोड भी कर सकते हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय एडमिशन 2019 प्रवेश पैटर्न

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए छात्रों का सबसे पहले ऑनलाइन आवेदन करना होगा। छात्र ऑनलाइन आवेदन विश्वविद्यालय की ऑफिसियल वेबसाइट www.abvhv.org पर जाकर कर सकेंगे। छात्र हमारे पेज पर दिए गए लिंक का उपयोग करके भी आवेदन प्रक्रिया पूर्ण कर सकेंगे। ऑनलाइन आवेदन के बाद छात्रों को पूरा भरा हुआ आवेदन पत्र और ऑनलाइन फीस जमा किया हुआ आवेदन पत्र की प्रति के साथ शैक्षिक डॉक्यूमेंट के साथ ऑफ़लाइन आवेदन करना होगा जिसमें छात्रों का वेरिफिकेशन होगा। उसके बाद छात्रों का प्रवेश पत्र जारी किये जायेंगे। प्रवेश पत्र जारी होने के बाद छात्रों की परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसके बाद चुने हुए छात्रों का परिणाम निकाला जायेगा और उन छात्रों को अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय की 2019 एडमिशन प्रक्रिया में प्रवेश दिया जायेगा।

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय

अटल बिहारी वाजपेई हिंदी विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश के भोपाल में स्थित है। हिंदी को गौरवपूर्ण स्थान दिलाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इसकी स्थापना 19 दिसंबर 2011 को की गई। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई हिंदी भाषा के प्रबल पक्षधर रहे थे इसलिए इस विश्वविद्यालय का नाम उनके नाम पर रखा गया। हिंदी भाषा को प्रसिद्ध बनाने के लिए इसे भारत के केंद्र में स्थित किया गया। क्योंकि भोपाल भारत के केंद्र में स्थित इसलिए इस विश्वविद्यालय को यहाँ स्थापित किया गया।

30 जून 2012 को प्रोफ़ेसर मोहनलाल छीपा इस विश्वविद्यालय के पहले संस्थापक कुलपति नियुक्त किये गए। इससे पहले वे अजमेर के महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय के कुलपति थे। भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति माननीय प्रणव मुखर्जी द्वारा इस विश्वविद्यालय का शिलान्यास 6 जून 2013 को भोपाल के ग्राम मुगालिया कोट में किया गया। विश्वविद्यालय के वर्तमान कुलपति प्रोफ़ेसर रामदेव भारद्वाज हैं। इस विश्वविद्यालय में शिक्षण कार्य अगस्त 2013 से आरम्भ किया गया।

एडमिशन

अपने विचार बताएं।