जो भी उम्मीदवार एएमयू प्रवेश परीक्षा 2019 में शामिल हुए थे उन्हें काउंसलिंग के लिए बुलाया जायेगा। एएमयू काउंसलिंग 2019 जारी होने कि तिथि अभी घोषित नहीं की गई है लेकिन जल्द जारी की जायेगी जिसके बाद छात्र काउंसलिंग प्रकिया में भाग ले सकेंगे। काउंसलिंग प्रकिया शुरु होने से पहले छात्रों को विकल्प भरने की जरुरत होगी जिसके आधार पर उम्मीदवारों को कॉलेज आवंटित किया जाता है। बता दें कि AMU Counselling 2019 में छात्रों को अपने साथ डाक्यूमेंट लेकर जानें होंगे जिनका वेरिफिकेशन किया जायेगा। काउंसलिंग प्रकिया में छात्रों को डाक्यूमेंट वेरिफिकेशन राउंड और पर्सनल इंटरव्यू के रुप में आयोजित किया जाता है। एएमयू काउंसलिंग 2019 से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए छात्र हमारे पेज पर दी गई जानकारी को पूरा पढ़ सकते हैं।

नवीनतम- एम.बी.ए. प्रवेश 2019 के लिए दूरस्थ काउंसलिंग शेड्यूल हुआ जारी, पूरी जानकारी के लिए नीचे की ओर स्क्रोल करें।

एएमयू काउंसलिंग 2019

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी काउंसलिंग 2019 का आयोजन जारी होने कि तिथि अभी घोषित नहीं की गई है। छात्र अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Aligarh Muslim University Counselling 2019 की सारी प्राप्त कर सकेंगे, इसके अलावा छात्र हमारे पेज पर दी गई जानकारी को पूरा पढ़ सकते हैं। बता दें कि एएमयू एप्लीकेशन फॉर्म 2019,15 अप्रैल 2019 तक भरे गये थे जिन छात्रों का आवेदन पत्र स्वीकार किया होगा उनका एडमिट कार्ड जारी किया जायेगा एडमिट कार्ड प्रवेश परीक्षा के लिए बेहद जरुरी है। प्रवेश परीक्षा आयोजन खत्म होने के बाद यूनिवर्सिटी की ओर से मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। जिन छात्रों का नाम मेरिट लिस्ट में आएगा उन्हें काउंसलिंग 2019 के लिए बुलाया जाएगा। जो भी छात्र एएमयू काउंसलिंग 2019 से जुड़ी महत्वपूर्ण तिथियों की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं वह नीचे दी गई तालिका को देख सकते हैं।

महत्वपूर्ण तिथियां

कार्यक्रम तिथि
एएमयू 2019 रिजल्ट जुलाई 2019
एएमयू 2019 काउंसलिंग जुलाई 2019
काउंसलिंग राउंड 2 जुलाई 2019
काउंसलिंग राउंड 3 जुलाई 2019

काउंसलिंग- एएमयू काउंसलिंग 2019 से जुड़ी जानकारी यहां पर उपलब्ध होगी। 

काउंसलिंग- एम.बी.ए. प्रवेश 2019 काउंसलिंग शेड्यूल की पूरी जानकारी नीचे दिये गये नोटिस से प्राप्त करें।

एएमयू काउंसलिंग 2019 प्रकिया

प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद वाले उम्मीदवारों को सबसे पहले आवेदन करना यानि रजिस्ट्रेशन करना होगा।उम्मीदवारों को अपने कॉलेज और कोर्स का विकल्प ऑनलाइन जमा करना होगा। रैंक के हिसाब से छात्रों को दस्तावेज सत्यापन के लिए बुलाया जायेगा। आवदेकों को समय दिये गये स्लॉट पर सत्यापन के लिए उपस्थित होना होगा। सत्यापन के बाद, चुने हुए उम्मीदवारों को सीट आवंटन पत्र दिया जायेगा।यदि कोई छात्र आवंटित कॉलेज से संतुष्ट नहीं है तो वह दूसरी काउंसलिंग के आवेदन करना होगा।बता दें कि काउंसलिंग प्रकिया 3 राउंट में आयोजित की जायेगी।

एएमयू काउंसलिंग 2019 के लिए ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

  • सबसे पहले आपको हमारे द्वारा दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप अपनी आईडी और पासवर्ड डालकर लॉगिन करें।
  • अब आप,काउंसलिंग पंजीकरण टैब पर क्लिक करें और फिर काउंसलिंग पंजीकरण के लिए दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अब मांगी गई सारी जानकारी भरें और सबमिट का बटन दबा दें।
  • रजिस्ट्रेशन करने के लिए छात्रों को रजिस्ट्रेशन शुल्क का भुगतान भी करना होगा।

एएमयू काउंसलिंग 2019 सीट आवंटन

जो छात्र काउंसलिंग राउंड में प्रवेश के लिए चुने जायेंगे उनको डाक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जायेगा। उन उम्मीदवारों को काउंसलिग और एडमिशन के समय निम्न दस्तावेज को लेकर जाना होगा जिनका वेरिफेकिशन किया जायेगा।जिन छात्रों ने आवेदन प्रकिया में भाग लिया होगा वह अपना एडमिट कार्ड सीट आवंटन के दौरान लेकर जायें।

काउंसलिंग के दौरान निम्न दस्तावेजों को किया जायेगा शामिल- 

  • एएमयू एडमिट कार्ड
  • 10वीं मार्क शीट
  • 10वीं का सर्टिफिकेट
  • 12वीं की मार्कशीट
  • 12वीं का सर्टिफिकेट
  • पास पोर्ट साइज फोट
  • स्थानीय पता
  • चरित्र प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) अपनी खुद की एक अनोखी और समृद्ध संस्कृति के साथ भारत की सबसे पुरानी प्रधान केंद्रीय विश्वविद्यालयों में से एक है। यह महान द्रष्टा सर सईद अहमद खान के निस्वार्थ और अथक प्रयासों का फल है। 1857 के स्वतंत्रता संग्राम के पहले युद्ध के बाद उनके समुदाय की सामाजिक-आर्थिक और शैक्षिक दुर्दशा हो गयी थी। उन्हें पता ये पता था की इन सबसे निपटने के लिए सामूहिक रूप से स्वतंत्र जांच और आधुनिकता की भावना पैदा करना ही हित में होगा। 1875 में उन्होंने अलीगढ़ में एक हाई स्कूल की स्थापना की, जो तीन साल के भीतर, एक कॉलेज के रूप में जाना जाता था जिसे मोहम्मद एंग्लो-ओरिएंटल कॉलेज कहा जाता है, जो 1920 में संसद के एक अधिनियम के माध्यम से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में बदल गया था।1951 से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय द्वारा बनाए गए कई संस्थानों में से एक है। कृषि विज्ञान, कला, वाणिज्य, जीवन विज्ञान, विज्ञान और सामाजिक विज्ञान के संकाय में अंडरग्रेजुएट महिला छात्र महिला कॉलेज में निर्देश प्राप्त करते हैं।

आधिकारिक वेबसाइट- amu.ac.in

एमयू एडमिशन 2019

अपने विचार बताएं।