आयुष्मान भारत योजना भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शुरू की गई स्वास्थ्य बीमा योजना (स्वास्थ्य बीमा स्कीम) है। 1 फरवरी 2018 को केंद्र सरकार का बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने इस कार्यक्रम के बारे में बताया कि यह योजना ट्रस्ट मॉडल या इंश्योरेंस मॉडल पर काम करेगी और पूरी तरह कैशलेस होगी। आयुष्मान भारत योजना से 10.74 करोड़ से अधिक गरीब आबादी वाले परिवारों को लाभ मिलेगा।

आयुष्मान भारत योजना क्या है ?

जानकारी के मुताबित आयुष्मान भारत योजना की घोषणा आम बजट 2019 के दौरान की गई थी। इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए तक के फ्री हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी। इसमें लगभग सभी गंभीर बीमारियों का इलाज कवर होगा। कोई भी व्यक्ति (विशेष रूप से महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग) इलाज से वंचित न रह जाए, इसके लिए स्कीम में फैमिली साइज और उम्र पर कोई सीमा नहीं लगाई गई है।

 इस योजना की खास बातें 

  • 21 मार्च 2018 को केंद्र सरकार की कैबिनेट ने आयुष्मान भारत योजना को मंजूरी दे दी।
  • इस योजना के तहत आने वाले हर परिवार को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कराया जाएगा।
  • आयुष्मान भारत योजना में 50 करोड़ लोग शामिल होंगे।
  • 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम को शुरू करने की घोषणा कर है।

किसको मिलेगा इस का लाभ 

  •  इस योजना का लाभ उन करोड़ सुविधाहीन परिवारों के लिए जो बीमारियों से अपनी जान गवा देते है।
  • इस सुविधा का लाभ भारत के  10.74 करोड़ लोगों को मिलेगा।

पीएम मोदी के मुताबिक इससे रोजगार के कई मौके पैदा होंगे। शहरों में हॉस्पिटल बनेंगे और मेडिकल स्टाफ को रोजगार मिलेगा। मोदी के मुताबिक आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी यूरोप की जनसंख्या के बराबर होंगे। सरकारी और चुने हुए निजी अस्पताल में इलाज की सुविधा मिलेगी। परिवार चाहे जितना बड़ा हो, उसके हर सदस्य को राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत लाभ मिलेगा।

अपने विचार बताएं।