बीएड 2019

अगर साल 2019 में आप भी बीएड ककरने की सोच रहे हैं तो आपको बता दें कि आप बीएड करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को देख सकते हैं। चाहें आप किसी भी स्टेट से हों लेकिन अगर आप बी एड करने की इच्छा रखते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को जरूर पढें। अलग- अलग स्टेट के बीएड के लिए पेज तैयार किए हैं। आप जिस स्टेट के बीएड प्रोग्राम की जानकारी देखना चाहते हैं देख सकते हैं। हमने अपने आर्टिकल में आपको पूरी जानकारी दी है। अगर फिर भी कोई ऐसी जानकारी है जो आप जानना चाहते हैं तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं। आइए सबसे पहले जानते हैं कि बीएड क्या है।

भारत में शिक्षा के महत्त्व को समझते हुए शिक्षण कार्य करने के लिए एक विशेष डिग्री हासिल करनी होती है। जो बी.एड. हैं। अगर आप सरकारी स्कूल में टीचर बनना चहाते हैं तो आपके पास बी.एड. की डिग्री होना जरूरी है। बीएड 2 वर्ष का स्नातक कोर्स होता है। बीएड करने के लिए आपको शिक्षा, संस्कृति और मानवमूल्य, शैक्षणिक मनोविज्ञान, शैक्षणिक मूल्यांकन, शिक्षा दर्शन आदि विषय पर ध्यान देना होगा। अगर आप बी.एड कर लेते हैं तो आप शिक्षण कार्य करने के लिए तैयार हो जाते हैं। अगर आपने बी.एड. नहीं किया है तो आप एक शिक्षक के रूप में काम नहीं कर सकते हैं।

बीएड 2019 (B.Ed 2019)

उम्मीदवार ने बीएड में प्रवेश के लिए आवश्यक न्यूनतम योग्यता कोर्स बैचलर ऑफ आर्ट्स (बीए), बैचलर ऑफ साइंस (बीएससी) या बैचलर ऑफ कॉमर्स (बीकॉम) व अन्य स्नातक, जो कम से कम 50% अंकों के साथ एक मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से किया हो। उम्मीदवार नीचे दी गई तालिका में से सभी स्टेट के लिए बीएड प्रोग्राम देख सकते हैं।

स्टेट बीएड 2019
दिल्ली बीएड यहां से करें प्राप्त
यूपी बीएड यहां से करें प्राप्त
एमपी बीएड यहां से करें प्राप्त
एचपी बीएड यहां से करें प्राप्त
हरियाणा बीएड यहां से करें प्राप्त
झारखण्ड बीएड यहां से करें प्राप्त
उत्तराखण्ड बीएड यहां से करें प्राप्त
राजस्थान पीटीईटी (बीएड) यहां से करें प्राप्त
बिहार बीएड यहां से करें प्राप्त
छत्तीसगढ़ बीएड यहां से करें प्राप्त

बीएड करने के लिए आपको सबसे पहले एक प्रवेश परीक्षा देनी होगी। उम्मीदवार को उन्सलिंग में उसके रैंक के अनुसार कॉलेज मिलते हैं। बीएड करने के लिए बहुत सारे प्राइवेट और गवर्नमेंट महाविद्यालय है। ये परीक्षा आम तौर पर जून-जुलाई महीने में आयोजित की जाती हैं। और इसमें कुछ राज्यों में अंग्रेजी, सामान्य ज्ञान, प्रयोग, मूल अंकगणित शिक्षण क्षमता और एक स्थानीय भाषा के बारे में प्रश्न शामिल हैं। इन परीक्षाओं के परिणाम आम तौर पर जुलाई / अगस्त तक आते हैं। उम्मीदवार सिद्धांत कक्षाओं के अलावा व्यावहारिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के माध्यम से जाते हैं।

अपने विचार बताएं।