बिहार डीएलएड

आजकल के अधिकतर लोगों का सपना शिक्षक बनने का होता है। लेकिन शिक्षक बनने के लिए सबसे जरुरी बात होती है कि शिक्षक बनने के लिए कोर्स कहां से करें। जो उम्मीदवार शिक्षा के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं वो उम्मीदवार डीएलएड का कोर्स कर सकते हैं। जिन उम्मीदवारों को बिहार राज्य से डीएलएड का कोर्स करना है उन उम्मीदवारों के लिए यह आर्टिकल बहुत महत्तवपूर्ण है। बिहार डीएलएड बिहार राज्य परीक्षा बोर्ड के द्वारा आयोजित की जाती है।

सरकार ने शिक्षक बनने के लिए कई कोर्स निर्धारित किए हुए हैं। इनमे से एक कोर्स डीएलएड का है। इस कोर्स के माध्यम से उम्मीदवारों को शिक्षक बनने की ट्रेनिंग दी जाती है। यह कोर्स 2 साल का होता है। इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा में शामिल होना जरुरी है। बिहार डीएलएड से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप यह आर्टिकल पूरा पढ़ सकते हैं।

बिहार डीएलएड 2018 बिहार डीएलएड 2019

बिहार डीएलएड

जिन उम्मीदवारों को बिहार राज्य से डीएलएड का कोर्स करना है वो उम्मीदवार इस आर्टिकल से सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। बिहार डीएलएड के लिए उम्मीदवारों को सबसे पहले आवेदन प्रक्रिया में भाग लेना है। और फिर चयनित उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। इच्छुक उम्मीदवार इस पेज से आवेदन पत्र, योग्यता, चयन प्रक्रिया से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बिहार डीएलएड पात्रता मापदंड

  • उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से बारहवीं में उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  • उम्मीदवारों को बारहवीं में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त होने जरुरी है।

बिहार डीएलएड आवेदन पत्र

जो उम्मीदवार बिहार राज्य से डीएलएड का कोर्स करना चाहते हैं वो उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। उम्मीदवारों को ऑनलाइन माध्यम से आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना है। उम्मीदवारों को आवेदन पत्र में पूछी गई सारी जानकारी को सही से डालना है। क्योंकि आवेदन पत्र में दी गई जानकारी के आधार पर ही उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। उम्मीदवारों को आखिरी तारीख से पहले आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना है। उम्मीदवारों को आवेदन पत्र के साथ आवेदन शुल्क का भी भुगतान करना होता है। आवेदन शुल्क भुगतान के बाद ही बिहार डीएलएड आवेदन प्रक्रिया को पूरा माना जाता है।

जो उम्मीदवार आवेदन शुल्क का भुगतान नहीं करेगा उन उम्मीदवारों का आवेदन पत्र स्वीकार नहीं किया जाएगा। उम्मीदवारों के लिए जानने वाली बात यह है कि ऑनलाइन माध्यम के अलावा किसी और माध्यम से किए गए आवेदन स्वीकार नहीं किया जाता है। इसलिए उम्मीदवार तय किए गए नियमों के अनुसार ही आवेदन प्रक्रिया में भाग लें।

बिहार डीएलएड एडमिट कार्ड

बिहार डीएलएड कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। जिसके लिए उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड जारी किए जाते हैं। आपको बता दें कि सिर्फ उन्हीं उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड जारी किए जाते हैं जो उम्मीदवार आवेदन प्रक्रिया को सभी नियमों के साथ पूरा करते हैं। उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए जाते हैं। उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट से आसानी से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

उम्मीदवारों को अपने एडमिट कार्ड में परीक्षा से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त होती है। जैसे परीक्षा की तारीख, परीक्षा का दिन, परीक्षा केंद्र का नाम आदि। उम्मीदवारों को बिहार डीएलएड प्रवेश परीक्षा वाले दिन एडमिट कार्ड अवश्य अपने साथ लेकर जाना है।

बिहार डीएलएड चयन प्रक्रिया

जो उम्मीदवार बिहार राज्य से डीएलएड का कोर्स करना चाहते हैं उन उम्मीदवारों को तय किए गए नियमों के अनुसार चयन प्रक्रिया में भाग लेना है। सबसे पहले उम्मीदवारों को आवेदन प्रक्रिया में भाग लेना है। उम्मीदवारों को ऑनलाइन माध्यम से आवेदन प्रक्रिया में भाग लेना है। उम्मीदवारों को आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को पूरा भरना है। जो उम्मीदवार आवेदन प्रक्रिया को सभी नियमों के साथ पूरा करेंगे उन उम्मीदवारों को अगले चरण के लिए बुलाया जाएगा।

जिन उम्मीदवारों के आवेदन पत्र स्वीकार कर लिए जाएंगे उन उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा। उससे पहले उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड जारी किए जाएंगे। उम्मीदवारों के एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए जाएंगे। किसी भी उम्मीदवार को पास्ट के माध्यम से एडमिट कार्ड नहीं भेजा जाएगा। बिहार डीएलएड एडमिट कार्ड से उम्मीदवार प्रवेश परीक्षा से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बिहार डीएलएड प्रवेश परीक्षा होने के कुछ बाद उम्मीदवारों का रिजल्ट जारी किया जाएगा। आपको बता दें कि जो उम्मीदवार बिहार डीएलएड परीक्षा में पास हो जाएंगे उन उम्मीदवारों को अगले चरण के लिए बुलाया जाएगा। योग्य उम्मीदवारों को डीएलएड की पढ़ाई करने के लिए कॉलेज का चयन करना होता है। जिसके बाद उम्मीदवारों को कांउसलिंग के लिए बुलाया जाता है। कांउसलिंग में उम्मीदवारों को बिहार डीएलएड कोर्स करने के लिए कॉलेज निर्धारित किए जाते हैं। सभी उम्मीदवारों को कॉलेज मिलने के बाद उम्मीदवारों को कॉलेज में डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाएगा।

बिहार डीएलएड रिजल्ट

बिहार डीएलएड कोर्स में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा के लिए बुलाया जाता है। प्रवेश परीक्षा होने के बाद उम्मीदवारों के रिजल्ट जारी किए जाएंगे। आपको बता दें कि उम्मीदवारों के रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए जाएंगे। उम्मीदवार आसानी से अपना रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट से देख सकते हैं। रिजल्ट जारी होने के बाद उम्मीदवारों को काउंसलिंग के लिए बुलाया जाएगा। प्रवेश परीक्षा होने के बाद उम्मीदवार अपडेट के लिए आधिकारिक वेबसाइट से जुड़े रहें।

बिहार डीएलएड कांउसलिंग

बिहार डीएलएड का रिजल्ट जारी होने के बाद उम्मीदवारों को जिस कॉलेज में एडमिशन लेना है उस कॉलेज का नाम भरना है। जिसके बाद उम्मीदवारों को कांउसलिंग के लिए बुलाया जाएगा। जिन उम्मीदवारों का नाम पहली कांउसलिंग में आएगा उन उम्मीदवारों को निर्धारित कॉलेज में जाकर डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को पूरा करना है। यूपी डीएलएड कोर्स में सीटें बचने पर दूसरी कांउसलिंग भी आयोजित की जाती है।

डीएलएड

अपने विचार बताएं।