बिहार टीईटी 2019

बिहार में हर वर्ष टीईटी परीक्षा आयोजित की है। शिक्षा के क्षेत्र में अपना करियर बनाने की चाह रखने वाले उम्मीदवार बिहार टीईटी 2019 की परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। बिहार में टीईटी परीक्षा बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड के द्वारा आयोजित की जाती है। टीईटी एक प्रवेश परीक्षा है जिसके माध्यम से लोवर प्राइमरी और अपर प्राइमरी शिक्षकों का चयन किया जाता है। टीईटी परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार कक्षा 1 से कक्षा 8वीं तक के शिक्षक बन सकते हैं। टीईटी परीक्षा में कुल दो पेपर होते हैं। पेपर 1 की परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवार कक्षा 1 से 5वीं तक के छात्रों को पढ़ने के योग्य माने जाते हैं। पेपर 2 की परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले कक्षा 6 से 8वीं तक के शिक्षक बनने के योग्य माने जाते हैं। टीईटी बिहार से जुड़ी अधिक जानकारियों के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़ सकते हैं।

बिहार टीईटी 2019

टीईटी परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को न्यूनतम 90 अंक प्राप्त करना आवश्यक है। अन्य पिछड़ी जाति के उम्मीदवार, महिलाएं और दिव्यांग उम्मीदवारों को टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम 83 अंक प्राप्त करना होता है। वहीं अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवार न्यूनतम 75 अंक प्राप्त कर के टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण हो सकते हैं। बिहार टीईटी 2019 के लिए आवेदन अभी शुरू नहीं हुए हैं। इस परीक्षा में आवेदन करने से पहले उम्मीदवार अपनी शैक्षिक योग्यता और आयु सीमा अवश्य जांच लें।

बिहार टीईटी 2019 परतता मापदंड

शैक्षिक योग्यता

पेपर 1 के लिए

  • उम्मीदवारों का न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ हायर सेकेंडरी उत्तीर्ण होना आवश्यक है। अथवा
  • 45 प्रतिशत अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण होने के साथ नेशनल टीचर एजुकेशन कॉउन्सिल से 2 वर्ष का एलिमेंटरी एजुकेशन में ट्रेनिंग किए उम्मीदवार भी आवेदन कर सकते हैं। अथवा
  • 50 प्रतिशत अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण होने के साथ 4 वर्षों का एलिमेंटरी एजुकेशन में ट्रेनिंग होना आवश्यक है।

पेपर 2 के लिए

  • बी.ए / बी.एससी के साथ 2 वर्षों की प्राइमरी एजुकेशन में ट्रेनिंग करने वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। अथवा
  • 50 प्रतिशत अंकों के साथ ग्रेजुएशन उत्तीर्ण होने के साथ बी.एड करने वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। अथवा
  • उम्मीदवारों का 50 प्रतिशत अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण होने के साथ 4 वर्षों का एलिमेंटरी एजुकेशन ग्रेजुएट (बीएलए) के फाइनल ईयर में होना आवश्यक है।

आयु सीमा

  • सामान्य वर्ग के पुरुष उम्मीदवारों की अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष तय की गई है।
  • सामान्य वर्ग की महिला उम्मीदवारों की अधिकतम आयु सीमा 38 वर्ष होनी चाहिए।
  • अन्य पिछड़ी जाति के उम्मीदवारों (पुरुष, महिला) के लिए अधिकतम आयु सीमा 38 वर्ष तय की गई है।
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के उम्मीदवारों (पुरुष, महिला) की अधिकतम आयु 40 वर्ष होना आवश्यक है।

बिहार टीईटी 2019 आवेदन पत्र

बिहार टीईटी 2019 के लिए आवेदन की प्रक्रिया अभी शुरू नहीं हुई है। आवेदन पत्र आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया जाता है। आवेदन पत्र जारी होने के बाद इच्छुक उमीदवार इस पेज में दिए गए लिंक के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन शुरू होने की तारीख अभी घोषित नहीं की गई है। वर्ष 2017 की बात करें तो आवेदन पत्र दिनांक 6 अप्रैल 2019 को जारी कर दिया गया था। टीईटी के लिए केवल ऑनलाइन माध्यम से आवेदन किया जा सकता है। आवेदन करने से पहले रजिस्ट्रेशन करना जरुरी है।

टीईटी बिहार के लिए आवेदन करते समय उम्मीदवारों को फोटो और हस्ताक्षर अपलोड करना आवश्यक है। आवेदन करने के बाद आवेदन शुल्क जमा करना आवश्यक है। आवेदन शुल्क जमा नहीं करने पर आवेदन अधूरा माना जाता है। अधूरे भरे गए आवेदन को रद्द किया जा सकता है। आवेदन पत्र भरते समय अगर कोई गलती हो जाए तो आप आवेदन में सुधार भी कर सकते हैं। आवेदन में सुधार करने की तारीख अभी घोषित नहीं की गई है। आप ऑनलाइन माध्यम से आवेदन पत्र में सुधार कर सकते हैं।

आवेदन शुल्क

एक पेपर के लिए

  • सामान्य एवं अन्य पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों को 400 रूपए आवेदन शुल्क देना होता है।
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और दिव्यांग उम्मीदवारों के लिए 200 रूपए आवेदन शुल्क तय किया गया है।

दोनों पेपर के लिए

  • सामान्य एवं अन्य पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों को 600 रूपए आवेदन शुल्क जमा करना आवश्यक है।
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और दिव्यांग उम्मीदवारों को 300 रूपए आवेदन शुल्क देना होता है।

यह भी पढ़ें : बिहार बीएड 2019 की जानकारी यहां से देखें। 

बिहार टीईटी 2019 एडमिट कार्ड

बिहार टीईटी के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों का एडमिट कार्ड अभी जारी नहीं किया गया है। वर्ष 2017 में दिनांक 16 जुलाई को एडमिट कार्ड जारी किया गया था। इस बात को ध्यान में रखते हुए ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि वर्ष 2019 में होने वाली टीईटी परीक्षा का एडमिट कार्ड जुलाई 2019 के तीसरे सप्ताह में जारी किया जा सकता है। हालांकि अभी तक इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

टीईटी एडमिट कार्ड आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया जाता है। एडमिट कार्ड केवल ऑनलाइन माध्यम से ही डाउनलोड किया जा सकता है। किसी भी उम्मीदवार को डाक के माध्यम से या किसी अन्य माध्यम से एडमिट कार्ड नहीं भेजा जाता है। एडमिट जारी होने के बाद इस पेज में एडमिट कार्ड डाउनलोड करने की लिंक लगा दी जाएगी। उम्मीदवार इस पेज में दिए जाने वाले लिंक के माध्यम से भी अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

बिहार टीईटी 2019 परीक्षा पैटर्न

पेपर 1 के लिए

  • परीक्षा लिखित माध्यम से आयोजित की जाती है।
  • इस परीक्षा में उम्मीदवारों को 2 घंटा 30 मिनट समय दिया जाता है।
  • परीक्षा कुल 150 अंकों की होती है।
  • इस परीक्षा में कुल 150 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • सभी प्रश्न 1 अंक के होते हैं।
  • परीक्षा में चाइल्ड डेवलपमेंट एंड एजुकेशन, लैंग्वेज 1 (हिंदी / उर्दू), लैंग्वेज 2 (उर्दू / बंगाली), मैथमेटिक्स और एन्वायरोमेंटल स्टडीज विषयों से प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • सभी विषयों से 30 – 30 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं।

पेपर 2 के लिए

  • यह परीक्षा 2 घंटा 30 मिनट की होती है।
  • पेपर 2 की परीक्षा कुल 150 अंकों की होती है।
  • परीक्षा में कुल 150 प्रश्न आते हैं।
  • पूछे जाने वाले सभी प्रश्न 1 अंक के होते हैं।
  • परीक्षा में चाइल्ड डेवलपमेंट एंड एजुकेशन से 30 अंक के प्रश्न आते हैं।
  • लैंग्वेज 1 (हिंदी / उर्दू / बांग्ला / मैथिलि / भोजपुरी / संस्कृत / अरबिक / पर्शियन / इंग्लिश) से भी 30 अंक के प्रश्न आते हैं।
  • लैंग्वेज 2 (हिंदी / उर्दू / बांग्ला / मैथिलि / भोजपुरी / संस्कृत / अरबिक / पर्शियन / इंग्लिश)  से कुल 30 प्रश्न आते हैं।
  • मैथमेटिक्स और साइंस या सोशियोलॉजी विषयों से कुल 60 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं।

बिहार टीईटी 2019 सिलेबस

यहां से आप टीईटी बिहार 2019 की परीक्षा के लिए सिलेबस देख सकते हैं। परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवार यहां से पेपर 1 और पेपर 2 दोनों का सिलेबस देख सकते हैं।

पेपर 1 का सिलेबस

पेपर 2 का सिलेबस

बिहार टीईटी 2019 आंसर की

टीईटी परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के लिए आंसर की भी जारी की जाती है। आंसर की लिखित परीक्षा समाप्त होने के कुछ समय बाद जारी कर दी जाती है। आंसर की जारी होने के बाद उम्मीदवार रिजल्ट जारी होने से पहले अपने अंकों का अनुमान लगा सकते हैं। आंसर की जारी होने के बाद उम्मीदवार रिजल्ट जाती होने से पहले अपने अंकों का अनुमान लगा सकते हैं। उम्मीदवार चाहे तो आंसर की पर अपनी आपत्तियां भी दर्ज कर सकते हैं। आंसर की बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया जाता है। आंसर की जारी होने के बाद आप इस पेज में दिए लिंक से भी आंसर की देख सकते हैं।

बिहार टीईटी 2019 रिजल्ट

टीईटी बिहार 2019 की परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को रिजल्ट जानने के लिए थोड़ा इंतज़ार करना होता है। परीक्षा समेत होने के कुछ समय बाद टीईटी रिजल्ट जारी कर दिया जाता है। रिजल्ट जारी होने की तारीख अभी घोषित नहीं की गई है। अनुमानों के अनुसार टीईटी रिजल्ट सितंबर 2019 के तीसरे सप्ताह में जारी किया जा सकता है। रिजल्ट जारी होने के बाद इस पेज रिजल्ट की लिंक लगा दी जाएगी। उम्मीदवार इस पेज में दिए गए से अपना रिजल्ट देख सकते हैं। बिहार टीईटी रिजल्ट 2019 पीडीएफ फॉर्मेट में जारी किया जा सकता है। पेपर 1 और पेपर 2 दोनों का रिजल्ट एक साथ जारी किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : बिहार टीईटी 2018 यहां से देखें।  

आधिकारिक वेबसाइट : biharboardonline.bihar.gov.in

टीईटी

अपने विचार बताएं।