बिहार के गोपालगंज के एक स्कूल एसएस गर्ल्स प्लस टू स्कूल से 42 हज़ार बिहार दसवीं कक्षा की कॉपियाँ गायब हो गयी हैं। ये कॉपियाँ स्कूल के स्ट्रांग रूम से गायब हुई हैं। बोर्ड कॉपियों के गायब होने की सूचना ने बड़ी जल्दी ही तूल पकड़ लिया है क्योकि बिहार बोर्ड मैट्रिक का रिजल्ट 20 जून को घोषित किया जाना है। तो ऐसे में मामले का तूल पकड़ना वाजिफ़ है। इस घटना के कारण हो सकता है कि मैट्रिक का रिजल्ट आने में देरी हो जाये।

बता दें कि एसएस गर्ल्स प्लस टू स्कूल के स्ट्रांग रूम में 213 बैग कॉपियों के थे। इसके अलावा 61 कॉपियाँ एडवांस गणित, 44 कॉपियाँ अर्थशास्त्र की कॉपियाँ गायब हुई हैं। एक बैग में 200 कॉपियाँ रखी जाती हैं तो इस तरह से कुल 42 हज़ार 705 कॉपियाँ चोरी हुई हैं। स्कूल प्राचार्य के मुताबिक हिंदी की 13, राष्ट्रभाषा हिंदी के 3, उर्दू के 1, अंग्रेजी के 14, एससी के 115, गणित के 16 और एसएससी के 50 बैग गायब हुए हैं।

गोपाल गंज के स्कूल में हुई बोर्ड कॉपी चोरी के मामले में स्कूल प्रिंसिपल को और स्कूल के एक गार्ड को गिरफ्तार किया गया है। एसएस स्कूल के प्रिंसिपल प्रमोद कुमार को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति कार्यालय में बुलाया गया था। पूछताछ के बाद स्कूल प्रिंसिपल को गिरफ़्तार कर के कोतवाली पुलिस अपने साथ ले गयी।

इस घटना में स्कूल प्रधानाचार्य के अलावा एक गार्ड को भी गिरफ़्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक बिहार बोर्ड मैट्रिक कॉपी चोरी के मामले में अन्य फरार आरोपियों की गिरफ्तारी में छापेमारी की जा रही है। इस मामले को प्राचार्य सह केंद्राधीक्षक प्रमोद कुमार श्रीवास्तव ने 17 जून को गोपालगंज थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। स्कूल के बाकी शिक्षकों और कर्मियों से भी घटना के विषय में घंटों पूछताछ की जा रही है।

पुलिस स्कूल के साथ ही साथ बोर्ड के ऑफिस में भी घटना की जाँच के लिए पहुंची है। बोर्ड ऑफिस में इस समय बिहार बोर्ड 10 वीं में शीर्ष 25 में स्थान प्राप्त करने वाले परीक्षार्थियों का वेरिफिकेशन चल रहा है। ऐसे हाल में अब सबसे बड़ी बात ये है कि जो दसवीं का परिणाम 20 जून को घोषित किया जाना था वो जारी होगा या नहीं। वैसे तो बिहार बोर्ड रिजल्ट के जारी होने की सम्भावना कम ही लग रही है।

ये भी पढ़ें : बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा परिणाम यहाँ से देखें।

Banasthali Vidyapith 2019 Apply Now!!

1 टिप्पणी

अपने विचार बताएं।