केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) से वर्ष 2019 में बारहवीं की परीक्षा देने वाले छात्रों के लिए जरुरी सुचना है।सीबीएसई बोर्ड ने परीक्षा के पैटर्न में कुछ बदलाव किए हैं। यह बदलाव अंग्रेजी विषय में किए गए हैं। छात्रों को बता दें कि अंग्रेजी विषय में कुल दो भाग होते हैं। पहला है कोर और दूसरा है इलेक्टिव। छात्र ध्यान दें कि परीक्षा के पैटर्न केवल अंग्रेजी कोर के लिए ही बदले गए हैं। अंग्रेजी इलेक्टिव में किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है। सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने परीक्षा के पैटर्न बदलने से पहले कुछ लोगों से फीडबैक लिए। साथ ही विशेषज्ञों की बैठक में विचार – विमर्श भी किया गया। इस विचार – विमर्श और फीडबैक के आधार पर सीबीएसई बारहवीं की अंग्रेजी कोर परीक्षा में बदलाव किए गए।

परीक्षा पैटर्न में बदलाव के बाद सेक्शन ए में प्रश्नों की कुल संख्या 19 की गयी है। पहले सेक्शन ए में कुल 24 प्रश्न पूछे जाते थे। वहीं अंग्रेजी कोर विषय में प्रश्नों की कुल संख्या 40 से कम कर के 35 कर दी गई है। छात्रों को नए पैटर्न के बारे में बताने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने सैंपल पेपर भी जारी किए हैं। इन सैंपल पेपर में बदले हुए पैटर्न के मुताबिक प्रश्न दिए गए हैं।

सीबीएसई अंग्रेजी कोर के बदले हुए पैटर्न पर हमने एक आलेख भी तैयार किया है। छात्र सीबीएसई अंग्रेजी कोर के पैटर्न यहां से देख सकते हैं।

परीक्षा पैटर्न में बदलाव उन छात्रों की मदद के लिए किए गए हैं जो कभी-कभी अंग्रेजी प्रश्न पत्र को तय समय अवधि में पूरा करने में असमर्थ है। अंग्रेजी कोर के सेक्शन ए में तीन पैसेज होने की वजह से छात्रों को उत्तर हल करने में ज्यादा समय व्यर्थ हो जाया करते हैं। जिससे छात्रों के पास दूसरे सेक्शंस के लिए कम समय बचता है। इस परेशानी को दूर करने के लिए ही सीबीएसई ने परीक्षा पैटर्न में बदलाव किए हैं।अधिक जानकारी के लिए सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट देखें। नए पैटर्न में तीन पैसेज को कम कर दिया गया है। अब परीक्षा में केवल दो पैसेज ही आएंगे।

आधिकारिक वेबसाइट : cbse.nic.in

सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) हर वर्ष बोर्ड की परीक्षा का आयोजन करती है। यह भारत की स्कूली शिक्षा के लिए प्रमुख बोर्ड है। सीबीएसई पहली कक्षा से ले कर बारहवीं कक्षा तक के पाठ्यक्रम तैयार करता है। सीबीएसई की द्वारा और भी कई परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। अखिल भारतीय सेकेण्डरी स्कूल परीक्षा, अखिल भारतीय सिनीयर स्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा, अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा और अखिल भारतीय प्री-मेडिकल परीक्षा का संचालन भी सीबीएसई बोर्ड के द्वारा ही किया जाता है। दसवीं और बारहवीं के छात्रों के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा वर्ष में दो मुख्य परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं।

Mody University Apply Now!!

अपने विचार बताएं।