केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने शनिवार को यानी कि आज सीबीएसई कक्षा 12 बोर्ड परीक्षाओं के परिणामों की घोषणा की है। जिसमें लड़कियों ने ये साबित कर दिया है कि वे लड़कों से कम नहीं है। वे सभी क्षेत्रों में लड़कों के साथ साथ नहीं बल्कि उन से आगे हैं। जी हां साल 2018 यानी कि इस साल का सीबीएसई का परिणाम आपको ये सोचने पर मजबूर कर देगा कि लड़कियां अब पीछे नहीं हैँ। उन्होंने अपने आपको साबित करना और जीतना सीख लिया है। वो अपनी पहचान बनाने में पीछे नहीं है। वे अपनी एक अलग ही पहचान बना रही हैं। जो पूरे देश में एक नई चमक छोड़ रही है। हां आज की लड़कियां सबको ये सोचने पर मजबूर कर रही हैं कि लड़कों से हर मामलों में वे आगे है।चाहे वो छेत्र पढा़ई का ही क्यों न हो।

आज सीबीएसई बोर्ड कक्षा 12 रिजल्ट 2018 ने ये दिखा दिया है हर माँ-पिता को उनकी बेटी होने पर दुख नहीं खुश होना चाहिए। क्योंकि यही लड़कियां उनके घर जीत की लहर ले कर आती हैँ। आइए आगे बढ़ते हैं और आपको बताते हैं कि लड़कियों ने किस तरीके और कहां-कहां अपनी जीत का झंडा लहराया है।

मेघना श्रीवास्तव ने किया टॉप

सबसे पहले हम बात करेंगे मेघना श्रीवास्तव की जो कि इस साल यानी कि साल 2018 में सीबीएसई कक्षा 12 में टॉप किया है। मेघना श्रीवास्तव ने इस बार 500 में से 499 नम्बरों के साथ टॉप किया है। मेघना श्रीवास्तव नोएडा के Step By Step स्कूल से पढी़ हैं। मेघना श्रीवास्तव ने अंग्रेजी कोर में 99, इतिहास -100, भूगोल -100, मनोविज्ञान -100, अर्थशास्त्र में 100 अंक लाए हैं।

दूसरी टॉपर रहीं अनुष्का चंद्रा

इसके ही साथ आपको बता दें कि जो सीबीएसई 12 वीं की दूसरी टॉपर हैं वो भी यूपी की हैं। उनका नाम अनुष्का चंद्रा है। अनुष्का चंद्रा गाजियाबाद की रहने वाली हैं। अनुष्का चंद्रा ने 500 में से 498 नंबर हासिल कर दूसरे नंबर पर अपना नाम दर्ज किया है। अनुष्का चंद्र के अंकों की बात करें तो अंग्रेजी कोर -98, इतिहास -100, राजनीति विज्ञान -100, अर्थशास्त्र -100, मनोविज्ञान -100 हैं।

टीसरे नंबर पर रहे 7 बच्चे, जिन में 5 हैं लड़कियां

सबसे कमाल की बात तो ये है कि तीसरे नम्बर पर अपने नाम दर्ज करने वालों में 1 या 2 नहीं इस बार 7 बच्चे हैं। जी हां चौकिए बिल्कुल नहीं क्योंकि आपके बता दें कि उन 7 बच्चों में 5 लड़कियां हैं। जिन्होंने 500 में से 497 नंबर हासिल किए हैं। अब हम आपको उन सबके नाम बताते हैं। ये कारनामा चाहत बोधराज, आस्था बंबा, तनुजा कपरी, सुप्रिया कौशिक और अनन्या सिंह ने किया है। छत बोधराज ने सभी विषयों में 100 अंक और अंग्रेजी में 97 अंक प्राप्त किए हैं। ये आर्टस धारी की छात्रा हैं। और अनन्या सिंह ने राजनीतिकविज्ञान में 100, इतिहास में 100, भूगोल में 100, संगीत में 100, अंग्रेजी में 97 अंक लाए हैं। और वहीं उस लिस्ट में दो लड़कों के नाम भी शामिल हैं जो कि नकुल गुप्ता और क्षितिज आनंद हैं।

क्षेत्र वाइज पास प्रतिशत, त्रिवेन्द्रम क्षेत्र सबसे ऊपर

अगर हम क्षेत्र वाइज बात करें तो आपको ये भी बता दें कि भुवनेश्वर क्षेत्र से 83.7% छात्रों ने सीबीएसई कक्षा 12 परीक्षा पास की है।जहां भी लड़कियां का पास प्रतिशत 87%, और लड़कों का 81.2% रहा। त्रिवेन्द्रम क्षेत्र 97.32 पास प्रतिशत के साथ सबसे ऊपर है, इसके बाद चेन्नई क्षेत्र 93.87 और दिल्ली क्षेत्र 89 के साथ है।

जीं हां ये वो हीं लड़कियां हैं जिन्होंने अपने माता-पिता को एक अलग ही गर्व का एहसास दिलाया है जो शायद उनके बेटे उनको नहीं दिला सके। और अभी इनकी जीत यहीं नहीं रूकी है अभी तो इनकी जीत की कहानियां बस शुरू ही हुईं है। अभी आपको इनकी जीत की अलग अलग और बड़े पैमाने पर कहानियां सुनने को मिलेंगी। हिन्दी अग्लासेम इन सभी टॉपर्स को बधाई देता है। और उनके आगे के भविष्य के लिए उन्हे शुभकामनाएं देता है।

अपने विचार बताएं।