सीबीएसई बोर्ड के परीक्षाएं आने वाली हैं। और सभी परिक्षार्थी ये सोचने में लगें हैं कि वे तैयारी कैसे करें। क्योंकि अब समय बहुत कम है और आपको सभी विषय की तैयारी करनी होगी। हमने एक विडियो के जरिए बता या है कि आप कम समय में कैसे अच्छे नंबर ला सकते है। अगर आप वो वीडियो देखना चहाते हैं तो यहां से देंखे।

सीबीएसई बोर्ड एग्जाम की तैयारी कैंसे करें

आपके सीबीएसई बोर्ड परीक्षा बहुत पास आ गई हैं। और आपने उसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी होगी। आप सीबीएसई कक्षा 10 समय सारणी यहां से देख सकते हैं। जैसा कि अक्सर कर होता है। कोई बच्चा गणित में अच्छा होता है तो कोई निज्ञान में किसिको हिन्दी पढ़ना अच्छा लगता है तो किसिको अंग्रेजी पड़ना अच्छा लगता है। लेकिन परीक्षा के समय सभी परिक्षीर्थियों को सभी विषय पढ़ने पड़ते है। कोई सिर्फ किसी विषय में पास होना चहाता है तो कोई उसमें अच्छे नंबर लाना चहाता है। इसलिए वो जानना चहाते हैं कि परीक्षा का पैटर्न क्या होता है परीक्षा में क्या क्या आता है। और उसके लिए वो कैसे तैयारी करे। तो आज हम आपको बताएंगे कि आपका अंग्रेजी का पेपर कैसा आता है। और उसके लिए कैसे तैयारी करनी है।

हम सबसे पहले आपको बताएंगे कि सीबीएसई कक्षा 10 एग्जाम पैटर्न क्या है। कक्षा 10 का अंग्रेजी का पेपर कैसा आता है। हम सीबीएसई बोर्ड की बात करें तो सीबीएसई बोर्ड में कक्षा 10 का अंग्रेजी के पेपर में तीन सेक्शन होते हैं। पहला सेक्शन, सेक्शन ए (A), दूसरा सेक्शन बी (B), तीसरी सेक्शन सी (C) होता है। पूरा पेपर कुल मिलाकर 80 नंबर का आता है। जिसको तीन भागों में बांटा गया है।

  • सेक्शन ए
  • सेक्शन बी
  • सेक्शन सी

सेक्शन ए

पहला सेक्शन यानि कि सेक्शन a रीडिंग का सेक्शन होता है जो कि 20 नंबर का आता है। जिसमें सबसे ज्यादा नंबर के पैसेज आते है।

सेक्शन बी

दूसरा सेक्शन यानि कि सेक्शन बी राइटिंग एंड ग्रामर का होता है। जो पुरे 3० नंबर का होता है।

सेक्शन सी

तीसरा सेक्शन यानि कि सेक्शन सी लिटरेचर का सेक्शन होता है। जो भी पूरे 30 नंबर का आता है।

सेक्शन ए के लिए ऐसे करें तैयार

सेक्शन ए को अच्छे से करने के लिए आपको पैसेज अच्छे से करने होंगे। क्योंकि सेक्शन ए में 2 अनसीन पैसैज आते हैं। और दोनो पैसेज 8-8 नंबर के आते हैं। इसलिए आपको पैसेज को अच्छे से करना होगा। और आप इस सेक्शन को कम से कम समय देकर कर सकते हैं। सबसे पहले आप पैसेज को अच्छे से पढ़ें। और उसमें पूछे गए सवालों को अच्छे से पढ़ें। उसके बाद कम से कम 2 बार पैसेज को पढें। जिससे आपको अच्छे से समझ आ जाए। इसके लिए आप सैंपल पेपर भी सॉल्व करें। पिछले साल के पेपर भी सॉलव करें।सैंपल पेपर के लिए आप यहां देंखे

सेक्शन बी के लिए कैसे करें तैयारी

सेक्शन बी यानि कि राइटिंग एंड ग्रामर को करने के लिए आपको ग्रामर के सारे बेसिक नियम आने चाहिए। और उन पर अच्छी पकड होनी चाहिए। आपको निबंध, एप्लीकेशन, लेटर आदि के फॉर्मेट पता होने चाहिए। आपको प्रैक्टिस बुक में एक्सरसाइज सॉल्व करनी चाहिए। और उसमें दिए गए निबंध, लेटर को भी पड़ना चाहिए। जिससे आपको पता लगेगा कि आपको कैसे लिखना है। और जब भी आप निबंध लिखें तब आपको शब्द की सीमा को भी ध्यान रखना होगा। और साथ साथ ही समय को भी ध्यान रखना होगा। क्योंकि कहीं ऐसा न हो कि आप निबंध को लिखने में इतना समय लगा दें कि आपको पास बाकी का पेपर करने के लिए समय ही न बचे।

आपको लिखते समय स्पेलिंग को सही लिखना होगा। क्योंकि उससे नबंर कट जाते हैं। इसलिए आप जब भी किसी निबंध आदि को पढ़ें तो उसको लिख कर जरूर देंखे। और अगर आप निबंध और स्टोरी राइटिंग को ओर अच्छा करना चहाते हैं और उसमें अच्छे नबंर लाना चहाते हैं तो उसमें किसी फेमस कवि के क्योटस लिखें। और ग्रामर में आपको वाक्य को पूरा करना, वाक्य को सही करना आना चाहिए। आप अपनी प्रैक्टिस बुक में प्रैक्टिस करके इन सब पर अच्छी पकड कर सकते हैं। इस सेक्शन में आपको अपनी राइटिंग पॉवर को यूज करके अच्छे नबंर लाने है।

सेक्शन सी के लिए कैसे करें तैयारी

सेक्शन सी को करने के लिए आपको क्वेश्चन के आंसर अच्छे से लिखने आने चाहिए। इसलिए आपको पिछले कुछ साल के पेपर देखने हैं उससे ही प्रैक्टिस करनी है। आपको इसमें लोंग आंसर लिखने होंगे। लोंग आंसर को याद रखने के लिए आपको उसके इम्पोर्टेन्ट पॉइंट्स याद रखने होंगे इसके लिए आप उन पॉइंट्स को हाईलाइट कर सकते हैं जिससे वो इम्पोर्टेन्ट पॉइंट्स सबसे पहले दिखेंगे और एग्जामिनर को पता लग जाएगा कि आपको आंसर आता है और वो आपका पूरा आंसर नहीं पढ़ेगा और आपको अच्छे नंबर भी दे देगा। आप डिफिकल्ट स्पीलिंग को अलग से लिखकर याद कर सकते है। जिससे आपके आंसर में स्पीलिंग गलत नहीं होंगी। आप जब भी कोई स्टोरी पढ़ें तो उसको समझकर पढ़ें। आपको कवियों के नाम भी याद होने चाहिए।

इंगलिश का पेपर ऐसा पेपर है जिसमें आपको अपनी हैण्ड राइटिंग को ध्यान में रखना होगा। अगर आपकी राइटमंग अच्छी होगी तो आपको अच्छे नबंर मिलेंगे। इसके लिए आप रोज 1 से 2, 3 पेज लिखें। आप लोंग आंसर की प्रैक्टिस लिखकर करें जिससे आपकी राइटिंग भी अच्छी होगी और आपकी प्रैक्टिस भी हो जाएगी। तो अगर आप इन बातों को ध्यान में रखते हैं। तो आपके अंग्रेजी के पेपर में अच्छे नबंर आ सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here