विदेश में पढाई

विदेश में पढा़ई, विदेश में अध्ययन, विदेश में पढा़ई कैसे करें ये वो सवाल हैं जिनका जबाव सब चहाते हैं। विदेश में पढ़ाई आज सभी छात्रओं का एक सपना होता है।  लेकिन उनको ये नहीं पता होता है कि विदेश में पढाई कैसे करें। तो आज हम एक ऐसा आर्टिकल लेकर आए हैं जो आपको बताएगा कि आप विदेश में पढ़ाई के अपने सपने को कैसे सच्च करें।  शुरुआत में यह एक बहुत ही कठिन काम की तरह दिखता है लेकिन यदि आप योजना बनाते हैं और फिर उचित मार्गदर्शन के साथ उस योजना को निष्पादित करते हैं तो यह बहुत आसान हो जाता है। इसलिए, आपके लिए चीजों को आसान बनाने में आपकी सहायता के लिए हम विदेशों में अध्ययन करने के लिए पूरी आवेदन प्रक्रिया की व्याख्या करने जा रहे हैं। तो आइए आगे बढ़ते हैं आपको बताते हैं कि आपको विदेश में पढा़ई करने के लिए किन चरणों को फॉलो करना होगा।

विदेश में पढाई कैसे करें

अगर आप विदेश में पढ़ाई करने की सोच रहे हैं लेकिन आप ये नहीं समझ पा रहे कि उसके लिए कैसे शुरूआत करें, कहां से शुरूआत करें तो आप हमारे आर्टिकल को जरूर पढे़ं। हमने अपने एस आर्टिकल में बहुत सी ऐसी बातें बताई हैं जिनको आप पढ़ सकते हैं। और विदंश में अध्ययन करने से पहले उन पर विचार कर सकते हैं। जो कि आपकी बहुत मदद करेगी। तो देरी किए बिना नीचे दी गई बातों को ध्यान से पढ़ें।

तय करें कि विदेश में अध्ययन आपके लिए सही है या नहीं

निश्चित रूप से विदेशों में पढ़ना बहुत अच्छा लगता है, लेकिन क्या यह आपके लिए वो सही है? सबसे पहले, अपने आप से कुछ प्रश्न पूछें:

क्या मुझे अपरिचित स्थानों पर यात्रा करना पसंद है?
क्या मैं लंबे समय तक परिवार और दोस्तों से दूर रह सकता हूं?
क्या मैं एक नई संस्कृति को अपना सकता हूं?
क्या मैं शैक्षणिक, पेशेवर और / या व्यक्तिगत रूप से मुझे आकार देने में मदद के लिए विदेशों में अध्ययन का उपयोग करूंगा?
यदि आप अधिकतर या सभी प्रश्नों के लिए “हाँ” का उत्तर देते हैं, तो विदेशों में पढ़ना शायद आपके लिए एक बहुत अच्छा विकल्प है। यदि आप कई प्रश्नों के लिए “नहीं” का उत्तर देते हैं, तो यह निर्णय लेने से पहले बहुत ज्यादा सोंते।

दुनिया में कहां पढ़ना चाहिए?

जहां आप अध्ययन करना चाहते हैं उसे चुनना हमेशा एक आसान काम नहीं है। साथ ही साथ अपने निजी हितों के साथ, आपको उस देश में अध्ययन की लागत (दोनों शिक्षण लागत और रहने की लागत) जैसी व्यावहारिकताओं के बारे में सोचना चाहिए। आपकी स्नातक कैरियर की संभावनाएं जैसे क्या कोई अच्छा नौकरी बाजार है? यै नहीं ये भी देकना चाहिए। साथ ही आपको ये भी सोचना चाहिए कि आप अपनी पढ़ाई के दौरान किस तरह का जीवन जीना चाहते हैं। अगर आपको अपना मन बनाने में मदद की ज़रूरत है, तो ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, जर्मनी, यूके और अमेरिका के कुछ सबसे लोकप्रिय स्थलों को देख सकते हैं।

जगह पर विदेशों में वित्त का अध्ययन करें

विदेश में वित्त पोषण अध्ययन अक्सर कई छात्रों और माता-पिता की चिंता का कारण होता है। हालांकि इसेसे ये न सोचें कि आप विदेश में नहीं पढ़ सकते हैं। वास्तव में, कई छात्र विदेशों में अपने अध्ययन के कार्यक्रमों के लिए अपने वर्तमान वित्तीय सहायता पैकेज लागू कर सकते हैं। कुछ छात्रों के लिए जो राज्य से बाहर निकलते हैं, विदेशों में पढ़ाई कर रहे हैं, पारंपरिक कैंपस सेमेस्टर की तुलना में वास्तव में सस्ता हो सकते हैं। इसके अलावा, विभिन्न छात्रवृत्ति के अवसर भी उपलब्ध हैं। अपने फंडिंग विकल्पों को चुनते समय, प्रारंभ करना शुरू करना याद रखना महत्वपूर्ण है, सहायता मांगें और एकाधिक संसाधनों की तलाश करें।

विदेश में करने जा रहे कोर्स को सही से चुनें

आपके द्वारा लिया गया सबसे महत्वपूर्ण कदम यह है कि आपको यह तय करना होगा कि कौन सा कार्यक्रम आपके लिए सबसे अच्छा है। इन बातों  का खास ध्यान रशना चाहिए-

  • यदि आप किसी विदेशी भाषा में या एक विशेष विदेशी संस्कृति में रूचि रखते हैं, तो खोज करें। यात्रा गाइड के माध्यम से देखें और यह देखने के लिए इंटरनेट पर खोजें कि आपको कौन सा शहर और वहां की भाषा आपको अच्छी लगती है। और साथ ही ये भी देखें कि आप जिस कोर्स को करने की सोच रहे हैं उस कोर्स के लिए वो स्थान, वहां के कॉलेज कैसें हैं।
  • आप यह भी तय कर सकते हैं कि क्या आप सीधे अपने स्कूल या किसी अन्य कॉलेज के माध्यम से एक कार्यक्रम करना चाहते हैं। दोनों के लिए फायदे और नुकसान हैं। यदि आप अपने कॉलेज के माध्यम से कोई प्रोग्राम चुनते हैं, तो संभव है कि आपके क्रेडिट अधिक आसानी से स्थानांतरित हो जाएंगे, ताकि आप कुछ लोगों के बारे में जानेंगे और आपको अधिक आरामदायक लगेगा, और आपको बहुत कम पेपरवर्क करना होगा। यदि आप अपने विश्वविद्यालय के बाहर एक प्रोग्राम चुनते हैं, तो आपके पास चुनने के लिए और विकल्प अधिक हो सकते हैं और आप अधिक साहसी होंगे क्योंकि आप उन लोगों के समूह के साथ अध्ययन करेंगे जिनसे आप कभी नहीं मिले हैं, लेकिन आपको और अधिक काम करना होगा कार्यक्रम में ढूंढें और आवेदन करने में।

समय का जरूर रखें ध्यान

  • एक बार जब आप अपना प्रोग्राम चुन लेते हैं, तो आपको आवश्यक परीक्षण करना होगा और कार्यक्रम की आवेदन की समयसीमा से पहले स्कोर प्राप्त करना होगा। फिर आपको चुने गए कार्यक्रम विभागों या स्कूलों में स्कोर की रिपोर्ट करनी पड़ सकती है जैसा कि उनकी वेबसाइट में आवेदन करने के तरीके में निर्देश दिया गया है।
  • एक बार जब आप परीक्षण दे चुकें हों। और आवेदन करने के लिए दस्तावेजों की व्यवस्था कर रहे हैं, तो अपना आवेदन भरें और जमा करें। आपको छात्र वीजा आवश्यकताओं के बारे में पूछना होगा और वर्तमान पासपोर्ट रखना सुनिश्चित करना होगा।

तो इस तरह आप तय कर सकते हैं कि आपको विदंश में कहां और क्या पढ़ना है। और किन बातों के ध्यान में रख कर इसका निश्चय करना है। अगर आप विदेश में पढ़ाई के लिए कुछ और सुझाव भी चहातें हैं तो हमें कमेंट करके बताएं। हम आपकी समस्या को सॉल्वकरने की पूरी कोशिश करेंगे।

अपने विचार बताएं।