सिविल सेवा की परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग द्वारा हर साल तीन चरणों में आयोजित की जाती है। यूपीएससी आई ए एस की परीक्षा देश में सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक मानी जाती है। Union Public Service Commission यानी कि यूपीएससी भारत देश की सबसे प्रतिष्ठित सेवाओ में शुमार होने वाली परीक्षा है। इस परीक्षा को सीसेट भी कहते हैं। आप सोच रहे होंगे कि यूपीएससी की परीक्षा देने के बाद आपकी पोस्ट क्या होगी तो हम आपको बता दें कि आप यूपीएससी की परीक्षा देने पर और उसमें सफल होने पर किसी जिले के मजिस्ट्रेट, पुलिस महकमे में आला अफसर और किसी मंत्रालय में अधिकारी के तौर पर जिम्मेदारी संभालेंगे।

03 जून 2018 को आयोजित की जाएगी यूपीएससी आईएएस प्रिलिमिनरी परीक्षा 2018

क्या है आईएएस

अगर आप अपने देश के लिए कुछ अच्छा करना चहाते हैं और अपने देश के नागरिक को मिलने वाली सुविधाओं में सुधार करना चहाते हैं तो आपको यूपीएससी आईएएस की परीक्षा जरूर देनी चाहिए। अधिकतम लोग सरकार से मिलने वालीं सेवाओं में सुधार के लिए बोलते हैं पर अगर उनसे ये पूछा जाए कि आपने सुधार लाने के लिए क्या किया या क्या कर सकते हैं तो वे चुप हो जाते हैं। यूपीएससी की परीक्षा देकर आप अन्य केंद्रीय सेवाओं जैसे आईएएस (Indian Administrative Service), आईएफएस (Indian Foreign Service), आपीएस (Indian Police Service), आईआरसी (Internal Revenue Service) आदि के पदों पर आसीन हो सकते हैं। यूपीएससी आईएएस की परीक्षा अधिकारी पोस्ट के लिए होती है और साथ ही इसका वेतन भी बहुत अच्छा होता है। इतना ही नहीं आपको इसमें बहुत सम्मान भी प्राप्त होता है। लेकिन आईएएस की परीक्षा देने के लिए आपमें कई योग्यताओं का होना जरूरी है। अगर आपको यूपीएससी आईएएस के लिए तैयारी करनी है तो ये जानना भी जरूरी है कि परीक्षा कितने चरणों में होती है। तो आज हम आपको यूपीएससी आईएएस के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

आईएएस परीक्षा की पूरी जानकारी

अगर आप एक सिविल सेवक बनना चहाते हैं तो आपको इसके लिए तीन महत्वपूर्ण पायदानों से गुजरना पड़ता है। आपको तीन परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा एवं साक्षात्कार देनी होगी। जो उम्मीदवार साल 2018 के लिए सिविल सेवा की परीक्षा के लिए आवेदन करना चहाते हैं तो हम उनको बता दें कि प्रारंभिक परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन 7 फऱवरी 2018 को प्रकाशित कर दिया गया है। और परीक्षा के लिए आवेदन की अन्तिम तिथि 06 मार्च 2018 होगी। और 03 जून 2018 रविवार को परीक्षा का दिन तय किया गया है। तथा मुख्य परीक्षा 1 अक्टूबर 2018 को होगी।

साल 2018 के आईएएस परीक्षा की तारीख

परीक्षा का नाम नोटिफिकेशन की तारीख आवेदन की आखिरी तारीख परीक्षा तिथि नोटिफिकेशन
सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा, 2018 07 फरवरी 2018 06 मार्च 2018 03 जून 2018 यहाँ देखें
सिविल सेवा (मुख्य) परीक्षा, 2018  घोषित की जाएगी घोषित की जाएगी 01 अक्टूबर 2018 यहाँ देखें

आईएएस के लिए योग्यता

राष्ट्रीयता:

यूपीएससी आईएएस की परीक्षा को देने के लिए उम्मीदवार या तो

  • भारतीय की नागरिकता प्राप्त हो या
  • नेपाल का, या
  • भूटान का, या
  • तिब्बती शरणार्थी हो।

शैक्षणिक योग्यता:

  • यदि आप आवेदन में रुचि रखते हैं और आवेदन करना चहाते हैं तो आपके पास किसी भी विश्वविद्यालय से जिसे यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन (यूजीसी) द्वारा मान्यता प्राप्त हो, किसी भी स्ट्रीम में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।
  • जो लोग स्नातक कर रहे हैं वे भी क्वालीफाइंग परीक्षा में उपस्थित हो सकते हैं। लेकिन उन्हें यूपीएससी को मुख्य परीक्षा से पहले अंक प्रमाण पत्र जमा करना होगा।

आयु सीमा:

यूपीएससी आईएएस की परीक्षा में शामिल होने के लिए एक उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 32 वर्ष होनी चाहिए।उम्मीदवार यदि अनुसूचित जाति या जनजाति से संबंधित हैं तो उसके लिए आयु सीमा पांच वर्ष अधिक होगी। और अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा तीन वर्ष अधिक होगी।

यूपीएससी आईएएस चयन प्रकि्रया

आईएएस प्रीलिम्स परीक्षा / सिविल सर्विसेज एटिट्यूड टेस्ट (सीएसएटी) परीक्षा पैटर्न

IAS Pre में 2 पेपर देने होते हैं वे 200-200 नंबर के होते हैं। इसमें 1/3 निगेटिव मार्किंग होती है।

पेपर मार्क्स
पेपर I 200
पेपर II 200

आईएएस मेन / सिविल सेवा मुख्य परीक्षा पैटर्न

योग्यता पत्र

पेपर मार्क्स
पेपर अ – भारतीय भाषा 300
पेपर ब –अंग्रेजी 300

योग्यता के लिए गिने जाने वाले पेपर

पेपर मार्क्स
पेपर – निबंध 250
पेपर – सामान्य अध्ययन I (भारतीय विरासत और संस्कृति, विश्व और समाज का इतिहास और भूगोल) 250
पेपर III – सामान्य अध्ययन II (शासन, संविधान, राजनीति, सामाजिक न्याय और अंतर्राष्ट्रीय संबंध) 250
पेपर IV –सामान्य अध्ययन III (प्रौद्योगिकी, आर्थिक विकास, जैव विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन) 250
पेपर V –सामान्य अध्ययन IV (नैतिकता, अखंडता, योग्यता) 250
पेपर VI – वैकल्पिक विषय पत्र I 250
पेपर VII – वैकल्पिक विषय पत्र II 250
उप योग (लिखित परीक्षा) 1750
व्यक्तित्व परिक्षण 275
कुल योग 2025

आईएएस प्रीलिम्स का सिलेबस

आईएएस प्रारंभिक परीक्षा के लिए उम्मीदवार को शारीरिक और साथ ही मानसिक दोनो स्तर पर तैयार रहना चाहिए। इसे उचित रणनीति की आवश्यकता है। आईएएस प्रारंभिक परीक्षा उम्मीदवारों के लिए स्क्रीनिंग टेस्ट के रूप में कार्य करता है। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करना आपके लिए आवश्यक है जिससे कि आप मुख्य जांच के लिए आगे बढ़ सकें।

सामान्य अध्ययन पेपर I
सामान्य अध्ययन पेपर II

सामान्य अध्ययन पेपर I

  • भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
  • भारतीय और विश्व भूगोल
  • भारतीय राजनीति और शासन
  • पर्यावरण, जैव विविधता आदि पर सामान्य मुद्दे
  • सामान्य विज्ञान

इन विषयों को तैयार करने के लिए, प्रत्येक विषय का आपको गहराई से अध्ययन करना पड़ेगा। आप तथ्यों और आंकड़ों के साथ भ्रमित न करें प्रवाह चार्ट तैयार करके या संक्षिप्त और लघु नोट्स बना कर विषयों को जानने का प्रयास करें।

सामान्य अध्ययन पेपर II

इस पेपर में भाषा कौशल, विश्लेषण और निर्णय लेने की क्षमता पर अधिक तनाव दिया जाता है। इसलिए, जितनी जल्दी हो सके आप भाषा कौशल और समस्या सुलझाने पर ध्यान केंद्रित करें।

इस पत्र में निम्नलिखित भागों के प्रश्न आते हैं:

  • अंग्रेजी समझ
  • सामान्य मानसिक क्षमता
  • आंकड़ा निर्वचन
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल
  • विश्लेषणात्मक क्षमता और तर्क

आईएएस मेन परीक्षा के लिए सिलेबस

सामान्य अध्ययन पेपर 1

आईएएस मेन परीक्षा में निम्नलिखित विषयों के प्रश्न शामिल हैं:

  • भारतीय संस्कृति और विरासत
  • दुनिया और समाज का भूगोल और इतिहास

जनरल स्टडीज पेपर 1 तैयार करने के लिए टिप्स

इस पत्र को तैयार करने के लिए, एक यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पूरे पाठ्यक्रम को कवर किया गया है। यह भाग कहानी की तरह है और दो प्रश्नों के बीच संबंध हो सकते हैं इसलिए सभी विषयों को प्रासंगिक जानकारी के साथ तैयार करने का प्रयास करें। पिछले वर्ष की परीक्षा में प्रश्नों की जांच करके ये सुनिश्चित करें कि आपकी आईएएस तैयारी सही रास्ते पर है। पूर्ववर्ती वर्ष की परीक्षा का समाधान करें लेकिन नवीनतम रुझानों के अनुसार पूरी तरह से उन पर भरोसा मत करो, प्रश्नों की पुनरावृत्ति दुर्लभ है। भारतीय संस्कृति और विरासत का हिस्सा प्राचीन और आधुनिक समय के सभी महत्वपूर्ण पहलुओं को शामिल करता है और इसलिए प्रत्येक महत्वपूर्ण तथ्य को याद करने की कोशिश करें। इतिहास खंड में, तारीख एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है जो याद रखना भी मुश्किल है। याद रखने के लिए, उन्हें फ्लैश कार्ड पर लिखना और सुबह चलना आदि की तरह हर समय याद रखना आवश्यक है।

सामान्य अध्ययन पेपर 2

सामान्य अध्ययन पेपर 2 भाग में निम्नलिखित विषय शामिल हैं:

  • अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध
  • संविधान
  • शासन
  • सामाजिक न्याय और राजनीति (राजनीति)
  • जनरल स्टडीज पेपर 2 तैयार करने के लिए टिप्स

जनरल स्टडीज पेपर 2 तैयार करने के लिए टिप्स

इस भाग के लिए, छात्र को भारतीय राजनैतिक व्यवस्था से संबंधित विस्तृत मुद्दों का पता होना चाहिए। अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के विवरण के साथ-साथ भारतीय राजनीतिक व्यवस्था जानना भी अनिवार्य हैं और कुछ महत्वपूर्ण क्षेत्रों में भी छात्र के ध्यान की आवश्यकता होती है।

सामान्य अध्ययन पेपर 3

सामान्य अध्ययन पेपर 3 में शामिल हैं:

  • प्रौद्योगिकी
  • पर्यावरण और जैव विविधता
  • आर्थिक विकास
  • सुरक्षा और आपदा प्रबंधन

जनरल स्टडीज पेपर 3 तैयार करने के लिए टिप्स

आपको इस पेपर के लिए आर्थिक विकास के बारे में, किसी को कराधान और खर्च पैटर्न के बारे में ज्ञान होना चाहिए।

सामान्य अध्ययन पेपर 4

सामान्य अध्ययन पेपर 4 में निम्नलिखित भागों के प्रश्न शामिल हैं:

  • आचार विचार
  • अखंडता
  • योग्यता

जनरल स्टडीज पेपर 4 तैयार करने के लिए टिप्स

यह खंड के लिए मूल अवधारणा की समझ आवश्यक है। यह उम्मीदवार की दी गई जानकारी से निष्कर्ष निकालने की क्षमता का परीक्षण करता है। आईएएस तैयारी के लिए इस सेगमेंट का बहुत अभ्यास करना चाहिए।

अंग्रेजी भाषा

न केवल मुख्य परीक्षा के लिए बल्कि साक्षात्कार दौर के लिए भी अंग्रेजी भाषा को सुधारना आवश्यक है।

अंग्रेजी भाषा को तैयार करने के लिए युक्तियाँ

हालांकि अंग्रेजी भाषा अब हमारे दैनिक जीवन में व्यापक रूप से उपयोग की जाती है, लेकिन परीक्षा के दृष्टिकोण से, कई पहलुओं को अभ्यास करने की जरूरत होती है। सबसे पहले, शब्दावली अनुभाग को मजबूत करना अनिवार्य है। दैनिक 5 नए शब्द सीखने और कागज के टुकड़े पर लिखने की कोशिश करें। जहां भी आवश्यक बोलते हुए इन शब्दों का प्रयोग करें। ऑनलाइन पत्रिकाओं, अंग्रेजी अखबारों को पढें ताकि शब्दावली के भाग को और अच्छा किया जा सके। निबंध और समझ ऑनलाइन परीक्षण द्वारा आसानी से अभ्यास किया जा सकता है। इससे आईएएस की तैयारी बहुत बेहतर होगी।

आईएएस तैयारी के लिए इन पुस्तकों को पढें

  • आरएस शर्मा द्वारा भारत का प्राचीन अतीत
  • मध्यकालीन भारत का इतिहास, सतीश चंद्र
  • बिपन चंद्रा द्वारा आधुनिक भारत का इतिहास
  • एम लक्ष्मीकांत द्वारा भारतीय राजनीति
  • विमान ब्यूरो (एनबीटी) द्वारा विज्ञान के साथ आगे बढ़ना
  • कुलदीप माथुर (एनबीटी) द्वारा भारतीय अनुभव का संक्षिप्त सर्वेक्षण सरकार से शासन तक
  • अलाघ वाई के द्वारा (एनबीटी)
  • पीएम बख्शी द्वारा भारत का संविधान
  • भारत की विदेश नीति, वी.पी. दत्त
  • गोह चेंग लींग द्वारा प्रमाणपत्र शारीरिक और मानव भूगोल
  • प्रकाशन डिवीजन द्वारा इंडिया इयरबुक
  • मनोरमा ईयरबुक
  • एजी नूरानी द्वारा भारत में संवैधानिक प्रश्न
  • टीआर जैन और वीके ओहरी द्वारा भारतीय आर्थिक विकास
  • भारत और रीतिका शर्मा द्वारा विश्व राजनीति की गतिशीलता

Leave a Reply