जामिया मिल्लिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन 2019 -20

जिन छात्रों को जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल में एडमिशन लेना हैं साथ ही जिन माता – पिता को अपने बच्चों को एडमिशन दिलाना हैं उन सभी के लिए यह आर्टिकल बहुत महत्तवपूर्ण है। आपको बता दें कि जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल में एडमिशन शुरु हो गए हैं। जामिया मिलिया के एडमिशन 2019-20 सेशन के लिए शुरु हो गए हैं। सभी को बता दें कि जामिया मिलिया इस्लामिया के लिए ऑनलाइन आवेदन 9 फरवरी 2019 से शुरु हो गए हैं। इससे जुड़ी विस्तार से नोटिफिकेशन आधिकारिक वेबसाइट पर जारी कर दी गई है। इच्छुक लोग आधिकारिक वेबसाइट www.jmi.ac.in से आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा यहां से भी आप आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। जामिया मिलिया इस्लामिया एडमिशन 2019 से जुड़ी अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप यह आर्टिकल पूरा पढ़ सकते हैं।

नवीनतम – आवेदन प्रक्रिया हुई शुरु, यहां से प्राप्त करें आवेदन पत्र।

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन 2019 -20

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन के लिए आवेदन प्रक्रिया 9 फरवरी 2019 से शुरु हो गई है। जिसके बाद उम्मीदवार आवेदन प्रक्रिया में भाग ले सकते है। जामिया से जुड़े कई स्कूलों के आवेदन एक साथ शुरु होंगे जिसकी पूरी जानकारी आप यहां से प्राप्त कर सकते हैं। आपको बता दें कि जमाई स्कूल के लिए आवेदन करने के साथ साथ आपको आवेदन शुल्क का भी भुगतान करना है। जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन 2019 -20 से जुड़ी जरुरी तारीखों के बारे में जानने के लिए आप नीचे दी गई टेबल देख सकते हैं।

महत्तवपूर्ण तारीखें

कार्यक्रम तारीख
आवेदन शुरु होने की तारीख 9 फरवरी 2019
आवेदन खत्म होने की तारीख 10 मार्च 2019

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन 2019-20 पात्रता मापदंड

  • प्रेप्प और पहली कक्षा में एडमिशन लेने के लिए छात्रों का जन्म तिथि सर्टिफिकेट ग्राम पंचायत के द्वारा जारी किया होना चाहिए।
  • बाकी कक्षा में एडमिशन लेने के लिए उम्मीदवारों को पिछली कक्षा में पास होना जरुरी है।

आयु सीमा 

  • प्रेप्प में एडमिशन लेने के लिए छात्र की आयु कम से कम 4 साल होनी चाहिए और अधिकतम 6 साल हो सकती है।
  • पहली कक्षा में एडमिशन लेने के लिए छात्र की आयु कम से कम 5 साल होनी चाहिए और अधिकतम आयु 7 साल हो सकती है।

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन 2019-20 आवेदन पत्र

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन के लिए आवेदन 9 फरवरी 2019 से शुरु हो जाएंगे। आपको बता दें कि छात्रों के एडमिशन के लिए आवेदन पत्र आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किए जाएंगे। उम्मीदवार आवेदन पत्र www.jmi.ac.in वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं। आधिकारिक वेबसाइट के अलावा छात्र इस पेज से भी आवेदन पत्र प्राप्त कर सकेंगे। यह आवेदन पत्र कई जामिया मिलिया स्कूलों में एडमिशन लेने के लिए उपलब्ध होंगे। पिछले साल की बात करें तो आवेदन पत्र सिर्फ ऑफलाइन माध्यम से भरें गए थे। लेकिन इस साल आवेदन सिर्फ ऑनलाइन माध्यम से भरे जाएंगे।

आवेदन करते समय आवेदन शुल्क का भी भुगतान करना है। आप सभी को बता दें कि जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन के लिए आवेदन शुल्क का भुगतान करना जरुरी है। सभी को आवेदन पत्र भरते समय आवेदन शुल्क का भुगतान करना है। आवेदन शुल्क का भुगतान भी ऑनलाइन माध्यम से ही किया जाएगा। नीचे उन स्कूल के बारे में जानकारी जिनके आवेदन 9 फरवरी से शुरु होने वाले हैं।

  •  मुशीर फातमा नर्सरी स्कूल में नर्सरी कक्षा के लिए आवेदन 9 फरवरी 2019 से शुरु होंगे और 10 मार्च 2019 तक कर सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ 250/- रुपए के आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।
  • सैयद आबिद हुसैन सीनियर सेकेंड्री स्कूल में प्रेप्प और पहली कक्षा के एडमिशन 9 फरवरी 2019 से शुरु होंगे और 10 मार्च 2019 तक कर सकते हैं। आवेदन पत्र के साथ 250/- रुपए के आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।
  • जामिया मीडल स्कूल में कक्षा पहली से छठी के लिए आवेदन 9 फरवरी 2019 से शुरु हैं और आवेदन करने की आखिरी तारीख 10 मार्च 2019 है। आवेदन भरते समय सभी को 250/- रुपए के आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।
  • जामिया सीनियर सेकेंड्री स्कूल / जामिया गर्ल्स सीनियर सेकेंड्री स्कूल में आवेदन पत्र कक्षा नौवीं और ग्यारहवीं के लिए 9 फरवरी 2019 से शुरु हो रहे हैं। और सभी लोग 10 मार्च 2019 तक ही आवेदन कर सकते हैं। आवेदन भरते समय सभी को 250/- रुपए के आवेदन शुल्क का भुगतान करना है।

आवेदन शुल्क

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल के लिए आवेदन करते समय 250/- रुपए आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा।

आवेदन पत्र – जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल एडमिशन के लिए, आवेदन पत्र यहां से प्राप्त करें।

जामिया मिलिया इस्लामिया स्कूल

जामिया मिलिया इस्लामिया एक संस्था जो मूल रूप से 1920 में भारत के संयुक्त प्रांत में अलीगढ़ में स्थापित की गई थी। 1988 में भारतीय संसद के एक अधिनियम द्वारा एक केंद्रीय विश्वविद्यालय बन गई। उर्दू भाषा में जामिया का अर्थ है ‘विश्वविद्यालय’ और मिलिया का अर्थ है ‘राष्ट्रीय’। जामिया मिलिया इस्लामिया से कई स्कूल जुड़े हुए हैं जिनके अब एडमिशन शुरु होने वाले हैं।

अपने विचार बताएं।