JEE Main 2019 Analysis

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी, 08 जनवरी से 12 जनवरी 2019 तक जेईई मेन पेपर 1 और 08 जनवरी 2019 को पेपर 2 को आयोजित कर रहा है। उम्मीदवार हमारे इस पेज से जेईई मेन 2019 के लिए पूरे पेपर के एनालिसिस की जांच कर सकते हैं। जेईई मेन 2019 एनालिसिस देश भर में स्थित कोचिंग संस्थानों के द्वारा जारी किया जाता है जैसे कि एलन कोटा, आकाश, आदि। जेईई मेन एनालिसिस 2019 परीक्षा के स्तर को बताता है कि पेपर कितना कठिन था, छात्रों की प्रतिक्रिया, और बहुत अन्य बातों को बताता है। परीक्षा समाप्त होने के तुरंत बाद जेईई मेन का एनालिसिस किया जा सकता है। जेईई मेन 2019 एनालिसिस की पूरी जानकारी छात्र यहाँ से देख हैं।

जेईई मेन 2019 एनालिसिस (JEE Main 2019 Analysis)

जेईई मेन एग्जाम पहली बार कई पालियों में आयोजित किया जा रहा है। जेईई में परीक्षा में पहली पाली मॉर्निंग शिफ्ट सुबह 09:30 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक है, जबकि दोपहर की शिफ्ट दोपहर 02:30 बजे से शाम 05:30 बजे तक है। उम्मीदवार जेईई मेन 2019 के शेड्यूल के बारे में जानकारी नीचे दी गई तालिका प्राप्त कर सकते हैं।

कार्यक्रम तिथियां
प्रवेश पत्र 17 दिसंबर 2018
परीक्षा तिथि पेपर 1 – 08-12 जनवरी 2019
पेपर 2 – 08 जनवरी 2019 (दो शिफ्ट)

जेईई मेन 2019 छात्रों की प्रतिक्रिया

यहां हम आपको JEE Main 2019 के पेपर के लिए छात्रों की प्रतिक्रिया के बारे में अपडेट करेंगे। हम जेईई मेन 2019 के परीक्षा केंद्रों पर जायेंगे और छात्रों से पूछेंगे कि पेपर के बारे में उनका दृष्टिकोण क्या है, पेपर का कठिनाई स्तर क्या है, आदि। जेईई मेन 2019 एनालिसिस के अपडेट के लिए इस भाग पर नज़र रखें।

12 जनवरी 2019, पेपर 1 पर छात्रों की प्रतिक्रिया

पेपर 1, (शि्फ्ट 1)

  • फिजिक्स का मेकेनिक्स सेक्शन कॉफी ट्रिकी रहा।
  • पूरा पेपर बहुत ही लंबा था।
  • मैथ्स का पेपर थोड़ा आसान था और केमिस्ट्री का पेपर मध्यम रहा।
  • लगभग सारे प्रश्न टिपिकल थे।
  • एक छात्र का कहना है कि केमिस्ट्री का पेपर मुश्किल था।
  • फिजिक्स सेक्शन के शुरू के 15 प्रश्न काफी मुश्किल थे और बाकि बचे 15 प्रश्न आसान थे।
  • सभी छात्रों ने प्रश्नों को आसानी से अटेमप्ट किया।

11 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1 पर छात्रों की प्रतिक्रिया

पेपर 1,(शिफ्ट 2)

  • पूरे पेपर में देखें तो 45% प्रशन ज्यादातर 11वीं क्लास से थे और कुछ 12वीं क्लास से भी थे।
  • छात्रों का कहना है कि मोक टेस्ट से उन्हें काफी मदद मिली है।
  • एक छात्र का ऐसा भी कहना है कि पूरा पेपर आसान था।
  • कुछ छातरों का कहना है कि 11वीं क्लास की गणित से प्रश्न ज्यादा आए थे।
  • फिजिक्स सेक्शन में 12वीं क्लास के प्रश्न अधिक देखने को मिले।
  • जितने छात्र इस परीक्षा में शामिल हुए उनमें से लगभग सभी छात्रों का कहना है कि फिजिक्स का पेपर मुश्किल था, केमिस्ट्री का पेपर आसान था और मैथ्स का पेपर बैलेंस्ड रहा।

पेपर 1,(शिफ्ट 1)

  • कॉन्सिक्स से सीधा सवाल पूछा गया था लेकिन ये थोड़ा समय लेने वाला था।
  • कैलकुलेशन का भाग लम्बा था।
  • छात्रों ने यांत्रिकी और आधुनिक भौतिकी को ट्रिकी बताया।
  • गणित में अधिकांश प्रश्न त्रिकोणमिति के प्रश्न थे, शंकुओं के प्रश्न थे।
  • बायो मॉलिक्यूल और पॉलीमर से प्रश्न भी थे।
  • भौतिकी तुलनात्मक रूप से कठिन थी।
  • न्यूटन के नियम से बहुत सारे प्रश्न आधारित पूछे गए थे। चुंबकत्व के प्रश्न भी थे। पेपर में शास्त्रीय भौतिकी से लेकर आधुनिक भौतिकी तक के सभी प्रश्न देखे गए हैं।
  • कक्षा 12 वीं से अधिक प्रश्न पूछे गए थे।
  • कुल मिलाकर प्रश्न संबंध और कार्य से पूछे गए थे।
  • केमेस्ट्री में पी-ब्लॉक, एस-ब्लॉक, डी-ब्लॉक, एफ-ब्लॉक से प्रश्न थे।
  • मैथ्स बहुत ही लम्बा और समय लेने वाला प्रश्न था, काम्प्लेक्स नंबर, 3-डी, सांख्यिकी, संभावना थी, गणित में प्रश्न आसान थे और एनसीईआरटी से थे।
  • सेमीकंडक्टर, फ्लूइड और रोटेशन से प्रश्न नहीं पूछे गए।
  • छात्रों ने यह भी कहा है कि सीबीएसई द्वारा संचालित पेपर आसान हुआ करता था।
  • गणित मध्यम, भौतिक कठिन था और रसायन विज्ञान आसान था।
  • भौतिकी खंड में अधिकांश प्रश्न यांत्रिकी से था।
  • गणित में सैंपल प्रश्न पत्र से भी प्रश्न दोहराया गया है।
  • प्रोजेक्टाइल, ऑप्टिक्स 2 प्रश्न और 2-3 मैकेनिक्स से प्रश्न थे।
  • अभिन्न से प्रश्न कठिन थे। प्रश्न calculas और एकीकरण से भी थे।
  • समन्वय से प्रश्न थे।
  • मोल कॉन्सेप्ट से प्रश्न थे।
  • आर्गेनिक केमेस्ट्री आसान था। अकार्बनिक रसायन विज्ञान के प्रश्न मध्यम थे।
  • कुल मिलाकर पेपर मध्यम था।
  • इलेक्ट्रोस्टैटिक्स और मोमेंट ऑफ इनर्टिया, वैक्टर सवाल भौतिकी खंड से थे।
  • छात्रों की प्रतिक्रिया के अनुसार, रसायन विज्ञान आसान था, गणित आसान था, समय प्रबंधन समस्या थी, भौतिकी कठिन थी।

10 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1 पर छात्रों की प्रतिक्रिया

पेपर 1,(शिफ्ट 2)

  • मॉक टेस्ट से सवालों के कई दोहराव थे।
  • छात्र की प्रतिक्रिया के अनुसार यदि आपने पूरी तरह से एनसीईआरटी किया है, तो वह आसानी से प्रश्नों को कर हैं।
  • एक छात्र ने परीक्षा देते समय एक तकनीकी गड़बड़ का सामना करने की सूचना दी है।
  • मैथ्स समय लेने वाली थी और परीक्षा देने वाले छात्रों में से एक के अनुसार भौतिकी और रसायन विज्ञान आसान थे।
  • गणित में अभिन्न प्रश्न कठिन थे, रसायन विज्ञान आसान था।
  • परीक्षा के लिए उपस्थित हुए छात्रों के आधार पर, गणित तुलनात्मक रूप से आसान था लेकिन लंबा था।


पेपर 1, (शिफ्ट 1)

  • प्रश्न सिलेबस से बाहर थे और कुछ मुश्किल भी थे।
  • छात्रों का कहना है कि फिजिक्स के कुछ प्रश्न 11वीं क्लास के भी थे।
  • गणित में विक्टर और 3 डी मैथ्स के टॉपिक पर ज्यादा फोकस था।
  • 4 – 5 प्रश्न त्रिगोणमिति से थे।
  • कमिस्ट्री के ज्यादातर प्रशन एनसीआरटी से पूछे गए थे।
  • फिजिक्स का पेपर मुश्किल था और प्रश्न इलैक्ट्रिसिटी और करंट टॉपिक्स से थे।
  • एक छात्र का कहना है कि कॉनिक सैक्शन से एक भी सिंग्ल प्रश्न नहीं था।
  • 3 – 4 प्रश्न ऑपटिक्स से थे।
  • फिजिक्स और गणित का पेपर लंबा था।
  • गणित का पेपर मुश्किल था, फिजिक्स का पेपर बैलेंस था और केमिस्ट्री का पेपर आसान था।
  • सभी प्रश्नों को हल करने में समय ज्यादा लग रहा था।
  • पिछले साल के मुकाबले इस बार पेपर ज्यादा मुश्किल था।
  • छात्र कों 150 से ऊपर स्कोर की उम्मीद है।
09 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1 पर छात्रों की प्रतिक्रिया

पेपर 1, (शिफ्ट 2)

  • कुल मिलाकर  रसायन विज्ञान आसान था, भौतिक विज्ञान कठिन था और गणित मध्यम था। यदि हम पूरी तरह से देखें तो पेपर कठिन था।
  • अधिक प्रश्न 12 वीं कक्षा के बजाय 11 वीं से पूछे गए थे।
  • गणित का पेपर आसान लेकिन लंबा था।
  • भौतिकी कठिन और लंबा था। गणित और रसायन विज्ञान उल्लेखनीय थे।
  • यदि हम पेपर के स्तर की तुलना CBSE और NTA के अनुसार करते हैं, तो NTA द्वारा संचालित पेपर शिफ्ट 1 के पेपर के मुकाबले कठिन था।
  • जेईई मेन 09 जनवरी परीक्षा के लिए शिफ्ट 2 दोपहर 2:30 बजे शुरू हुई है।

पेपर 1, (शिफ्ट 1)

  • छात्रों के अनुसार, गणित सभी विषयों में से सबसे कठिन था।
  • छात्रों द्वारा बताई गई जेईई मेन परीक्षा लंबी नहीं थी।
  • एनसीईआरटी की किताब से सीधे प्रश्न पूछे गए थे।
  • फिजिक्स थोड़ा सा कठिन लेकिन लम्बा था।
  • पिछले वर्ष के प्रश्न भी आज की परीक्षा में थे।
  • जेईई मेन परीक्षा में प्रश्न 12 वीं की तुलना में कक्षा 11 वीं से अधिक थे।
  • छात्र कह रहे हैं कि अनुमानित कटऑफ 80-90 के बीच होगी।
  • अगर हम सीबीएसई और एनटीए के अनुसार पेपर के स्तर की तुलना करते हैं तो एनटीए द्वारा संचालित पेपर कठिन था।

08 जनवरी 2019, जेईई पेपर 2 छात्रों की प्रतिक्रिया

  • छात्र मैथ्स और फिजिक्स सेक्शन के लिए मिश्रित प्रतिक्रिया दे रहे हैं। कुछ के लिए यह माध्यम स्तर का रहा और कुछ के लिए यह कठिन था। लेकिन बात साफ़ है कि किसी के लिए भी यह आसान नहीं था।
  • केमिस्ट्री सेक्शन छात्रों को आसान लगा।
  • फिजिक्स में मॉडर्न फिजिक्स, रोटेशन, ऑप्टिक्स, थर्मोडायनामिक्स के अधिकांश प्रश्न थे।
  • कक्षा 11 और 12 के प्रश्नों का अनुपात 60:40 था।
  • जेईई मेन 2019 पेपर 2 में छात्रों ने कहा कि ड्राइंग भाग बहुत आसान था जबकि भाग 1 और भाग 2 मध्यम कठिनाई स्तर के थे।
  • पेपर 1 का स्तर मध्यम से कठिन था लेकिन पेपर 2 कठिनाई के स्तर में मध्यम था।
  • पेपर 2 में कक्षा 11 वीं से 12 वीं कक्षा से अधिक प्रश्न थे।
  • मैथ्स सबसे कठिन सेक्शन था।
  • परीक्षा केंद्र में आईडी प्रूफ की फोटोकॉपी ले जाने की नहीं थी अनुमति। बहुत बच्चों करी ये गलती।

जेईई मेन 2019 पेपर 1 एनालिसिस

जेईई मेन 2019 पेपर 1 के लिए एनटीए परीक्षा कई दिनों में दो पालियों में आयोजित कर रहा है। JEE Main 2019 पेपर 1 के लिए परीक्षा की तारीखें जनवरी 08, 09, 10, 11 और 12, 2019 हैं। इस भाग में, पेपर 1 के लिए पूरा एनालिसिस के कर आएंगे।

11 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1, शिफ्ट 1 सैक्शनवाइज एनालिसिस

जेईई मेन 2019 पेपर 1 भौतिकी एनालिसिस

यह देखा गया है कि भौतिकी का कठिनाई स्तर कठिन था। छात्रों ने यांत्रिकी और आधुनिक भौतिकी को मुश्किल पाया। न्यूटन के नियम से बहुत सारे प्रश्न आधारित पूछे गए थे। चुंबकत्व के प्रश्न भी थे। शास्त्रीय भौतिकी से लेकर आधुनिक भौतिकी तक के प्रश्न भी पेपर में देखे गए हैं। भौतिकी खंड में अधिकांश प्रश्न यांत्रिकी से था। इलेक्ट्रोस्टैटिक्स और मोमेंट ऑफ इनर्टिया, वैक्टर और प्रोजेक्टाइल प्रश्न भौतिकी खंड से थे।

टॉपिक प्रश्नो की संख्या
ऑप्टिक्स 02
जेईई मेन 2019 पेपर 1 रसायन विज्ञान एनालिसिस

जेईई मेन 2019 में रसायन विज्ञान का भाग आसान था। जैव अणु, तिल अवधारणा और बहुलक से प्रश्न थे। कॉलम के सवाल का मिलान केमिस्ट्री सेक्शन में भी था। पी-ब्लॉक, एस-ब्लॉक, डी-ब्लॉक, एफ-ब्लॉक से भी प्रश्न थे। प्रश्न फार्म कार्बनिक आसान था। अकार्बनिक रसायन विज्ञान के प्रश्न मध्यम थे।

जेईई मेन 2019 पेपर 1 गणित एनालिसिस

जेईई मेन में गणित इस बार मध्यम था। लेकिन सवाल बहुत गणनात्मक और लंबा था। कॉनिक्स से प्रश्न सीधे-सीधे लेकिन समय लेने वाले थे। गणित में अधिकांश प्रश्न त्रिकोणमिति से थे। रिलेशन और फंक्शन से पूछे गए सवाल काफी पेचीदा थे। जटिल संख्या, 3-डी, सांख्यिकी से प्रश्न, संभावना थी। कैलकुलस, इंटिग्रेशन और कोऑर्डिनेट ज्योमेट्री के प्रश्न तो थे ही।

10 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1, शिफ्ट 2 सैक्शन वाइस एनालिसिस

जेईई मेन 2019 भौतिकी का एनालिसिस

छात्रों की प्रतिक्रिया के अनुसार भौतिकी कठिन था। जड़ता के क्षण से प्रश्न भी थे। यांत्रिकी, इलेक्ट्रोस्टैटिक्स से प्रश्न थे। प्रकाशिकी से अधिक प्रश्न भी थे। यांत्रिकी से कुछ प्रश्न थे। इलेक्ट्रोस्टैटिक्स से संख्यात्मक आधारित प्रश्न था।

टॉपिक प्रश्नों की संख्या
इलेक्ट्रॉनिक्स 02
मैकेनिकस 02
जेईई मेन 2019 गणित का एनालिसिस

पिछले साल बू-टाइम की तुलना में गणित अपेक्षाकृत आसान था। समन्वय ज्यामिति, त्रिकोणमिति, कलन और संभावना से प्रश्न थे। अंतर से प्रश्न थोड़ा कठिन था। इसमें वेक्टर, 3-डी, मैट्रीस, जटिल संख्या, निर्धारक जैसे विषयों के प्रश्न भी थे। कैलकुलस से प्रश्न अधिक थे। दीर्घवृत्त से एक प्रश्न था। इंट्रीग्रेशन से प्रश्न कठिन थे। permutation and combination से भी प्रश्न थे।

टॉपिक प्रश्नों की संख्या
हाइपरबोला और पैराबोला 06-07
जेईई मेन 2019 रसायन विज्ञान का एनालिसिस

रसायन विज्ञान के लिए मिश्रित प्रतिक्रियाएं थीं। कुछ कह रहे हैं कि यह कठिन था, दूसरों ने कहा कि यह आसान है। रसायन विज्ञान में प्रश्न मोलरिटी, मोल अंश और समन्वय यौगिकों से थे। इस बार ऑर्गेनिक से सवाल ज्यादा थे।

10 जनवरी 2019, जेईई पेपर 1, शिफ्ट 1 सैक्शन वाइस एनालिसिस

जेईई मेन 2019 पेपर 1 फिजिक्स एनालिसिस
  • फिजिक्स का पेपर बहुत ही लंबा और ट्रिकी था और मेकेनिक्स के प्रश्न बहुत ही कठिन थे।
  • कुछ छात्रों का कहना है कि फिजिक्स के कुछ प्रश्न 11वीं क्लास से भी पूछे गए थे।
  • ज्यादातर प्रश्न मेगनेटिस्म से थे।
  • इलैक्ट्रिसिटी, करंट और ऑपटिक्स से भी थे। पार्शल प्रेशर के प्रश्न भी थे जो कि आसान थे। फिजिक्स का पूरा सेक्शन न्यूमेरिक्स पर आधारित था।
  • मेकेनिक्स से 4-5 प्रश्न और ऑपटिक्स से 3-4 प्रश्न पूछे गए थे।
  • ज्यादातर सभी छात्रों का कहना है कि फिजिक्स का पेपर मध्य से ज्यादा मुश्किल था।
जेईई मेन 2019 पेपर 1 केमिस्ट्री एनालिसिस
  • केमिस्ट्री के अधिकतर प्रश्न सीधे एनसीआरटी से पूछे गए थे।
  • कारबोलिक एसिड, डी और एफ ब्लॉक से भी प्रश्न थे।
  • ऑरगेनिक और इनऑरगेनिक केमिस्ट्री विषय के प्रश्न बराबर थे।
  • केमिस्ट्री का पूरा सैक्शन एनसीआरटी से था और शिफ्ट 1 की केमिस्ट्री का पूरा पेपर आसान था।
जेईई मेन 2019 पेपर 1 मैथ्स एनालिसिस
  • मैथ्स का पूरा पेपर उलझाने वाले था और प्रश्नों को हल करने में बहुत समय खर्च हो रहा था।
  • इंटेग्रेशन के प्रश्न काफी बड़े थे। ज्यादातर प्रशन वेक्टर और 3-डी मैथ्स से पूछे गए थे।
  • 4-5 प्रश्न त्रिगोणमिती से और 4 प्रश्न कॉनिक सैक्शन से आए थे। लिनियर इक्यूएशन से एक भी प्रश्न नहीं था।
  • केलक्यूलस के सवाल बहुत ही ट्रिकी थे। एक-दो प्रश्न सर्कल्स से भी थे।
  • इंटेग्रेशन से पूछे गए प्रश्न आसान थे। कुछ प्रश्न ऐपलिकेशन ऑफ इंटेग्रेशन से भी थे।
  • पूरे गणित के पेपर का एनालिसिस करें तो यह काफी कठिन और लंबा था।
09 जनवरी 2019, जेईई 2019 पेपर 1 एनालिसिस

पेपर 1 गणित का एनालिसिस

  • पेपर का स्तर – मध्यम
  • पिछले वर्षों की तरह प्रत्येक विषय से प्रश्न पूछे गए थे।
  • 30 में से 15-18 आसान प्रश्न थे।
  • सांख्यिकी, वृत्त, क्षेत्र से लम्बे प्रश्न पूछे गए थे।
  • प्रोबेबिलिटी से एक आसान सा प्रश्न पूछा गया था।
  • 3D और वैक्टर से 3 प्रश्न पूछे गए। जिनका कठनाई स्तर मध्यम था।
  • काम्प्लेक्स नंबर से 1 आसान सा प्रश्न पूछा गया।
  • मैथमेटिकल रीजनिंग से भी 1 मध्यम प्रकृति का प्रश्न पूछा गया।
  • डिफरेंशियल कैलकुलस से 4 आसान से प्रश्न पूछे गए।
  • इंटीग्रल कैलकुलस से मध्यम प्रकृति के 5 प्रश्न पूछे गए।

कोचिंग संस्थानों द्वारा जारी जेईई मेन 2019 एनालिसिस

प्रत्येक स्लॉट के लिए परीक्षा समाप्त होने के बाद एलन कोटा, रेजोनेंस, आदि जैसे बड़े कोचिंग संस्थान पेपर 1 और पेपर 2 के लिए जेईई मेन 2019 के लिए एग्जाम एनालिसिस जारी करेंगे। कोचिंग संस्थानों द्वारा पेपर के एनालिसिस विषय विशेषज्ञों द्वारा तैयार की जाती है।

जेईई मेन 2019 पेपर 2 एनालिसिस

NTA, 08 जनवरी 2019 को जेईई मेन 2019 पेपर 2 आयोजित कर रहा है। परीक्षा कई पालियों में आयोजित की जा रही है। पेपर 2 में तीन खंड एप्टीट्यूड, गणित और ड्राइंग शामिल हैं। जेईई मेन 2019 पेपर 2 के लिए पेपर एनालिसिस पेपर के समाप्त होते ही यहाँ अपलोड कर दी जाएगी।

जेईई मेन 2019 पेपर 2 ड्राइंग एग्जाम एनालिसिस

ड्राइंग सेक्शन के पेपर में 70 अंकों के तीन प्रश्न हैं। उम्मीदवारों के अनुसार ड्राइंग सेक्शन काफी आसान था और इसमें कुल 3 प्रश्न थे। अनुभाग के तीसरे प्रश्न में 3 भाग थे और उम्मीदवारों को उनमें से किसी एक को करना था:

  • पहला विकल्प एक छोटी लड़की के कमरे के पर्दे को डिजाइन करना था, दूसरा विकल्प अपने पसंदीदा फिल्म अभिनेता को स्केच करना था और तीसरा विकल्प अलाव के आसपास बैठे लोगों के दृश्य को स्केच करना था, इस प्रश्न के लिए अंक 30 थे।
  • दूसरे प्रश्न में 20 अंकों के लिए था जिसमें एक वर्ग डिजाइन दिया गया था और छात्रों को इसका आकार दोगुना करने के लिए प्रतिकृति खींचकर समान करना था।
  • आखिरी सवाल घुमावदार रेखाओं और रंग का उपयोग करके यादृच्छिक डिजाइनों के साथ एक वर्ग तैयार करना था, यह प्रश्न 20 अंकों के लिए था।
जेईई मेन 2019 पेपर 2 गणित एग्जाम एनालिसिस
  • अभ्यर्थियों के अनुसार यह अनुभाग स्वभावतः मध्यम था, पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों से कुछ प्रश्न थे। कक्षा 11 वीं के प्रश्न 60% गणित के भाग को कवर करते हैं जबकि कक्षा 12 वीं के अनुसार केवल 40% प्रश्न थे।
जेईई मेन 2019 पेपर 2 एप्टीट्यूड टेस्ट एनालिसिस
  • एप्टीट्यूड टेस्ट जिसमें कुल 50 प्रश्न होते हैं। ये कुल 200 अंक के होते हैं। उम्मीदवारों के लिए प्रश्न आसान थे। जनरल एप्टीट्यूड सेक्शन बहुत ही आसान था।

जेईई मुख्य 2019 परीक्षा पैटर्न

इस परीक्षा में दो पेपर शामिल हैं। बीई / बी.टेक उम्मीदवारों को पेपर 1 के लिए और दूसरी ओर बी आर्क / बीप्लान छात्रों को पेपर 2 के लिए उपस्थित होने की आवश्यकता होगी।परीक्षा का तरीका: पेन-पेपर मोड और कंप्यूटर आधारित मोड

  • अवधि: 3 घंटे
  • परीक्षा का माध्यम: अंग्रेजी और हिंदी
  • प्रश्न पत्र का प्रकार: उद्देश्य प्रकार (एमसीक्यू)

पेपर 1: बीई / बी टेक के लिए

विषय प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक
भौतिक विज्ञान 30 120
रसायन विज्ञान 30 120
गणित 30 120

पेपर 2: बी आर्क / बीप्लान (B.Arch/B.Plan) के लिए

विषय प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक
एप्टीटुड टेस्ट 50 200
गणित 30 120
ड्राइंग टेस्ट 2 70

अंकन योजना

  • हर सही उत्तर के लिए 4 अंक दिए जाएंगे।
  • प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1 अंक काटा जाएगा।
  • अनुत्तरित प्रश्नों के मामले में कोई अंक नहीं दिया जाएगा या कटौती नहीं की जाएगी।

जेईई मेन

Banasthali Vidyapith 2019 Apply Now!!

अपने विचार बताएं।