जो छात्र नीट 2018 के लिए तैयारी कर रहै हैं। वे नीट से संबधित सभी खबरें पढ़ने के इच्छुक होते हैं। तो उनको बता दें कि आज हम आपके लिए नीट की एक ऐसे न्यूज लेकर आए हैं। जिसको पढ़कर वो छात्र खुश हो सकते हैं जिनका अंतिम दिन आवेदन करतेे वक्त तकनीकी कारणों से शुल्क जमा होना रह गया था। आपको बता दें कि मेडिकल कॉलेज में दाखिले के लिए नीट 2018 के लिए अंतिम दिन आवेदन करते वक्त तकनीकी कारणों से कई छात्र शुल्क जमा नहीं कर पाए थे।

नीट 2018 के लिए अंतिम दिन आवेदन करते वक्त तकनीकी कारणों से कई छात्र नहीं कर पाए शुल्क जमा

जिसके बाद अब हाईकोर्ट ने सीबीएससी को यह बताने को कहा है कि क्या ऐसे छात्रों को परीक्षा में सम्मलित होने की अनुमति दी जा सकती है या नहीं जो अंतिम दिन आवेदन करते वक्त तकनीकी कारणों से शुल्क जमा नहीं कर पाए थे। इस बारे में जस्टिस वी. कामेश्वर राव ने सीबीएसई को 3 अप्रेल 2018 तक जवाब देने को कहा है।

3 अप्रेल 2018 को सीबीएसई से मांगा जवाब

आपको ये भी बता दें कि नीट 2018 का तैयारी कर रही एक छात्रा अनु यादव ने एक याचिका दी थी। जिस पर हाईकोर्ट ने यह आदेश दिया है। उन्होंने के कटअॉफ डेट के बाद शुल्क जमा करने की अनुमति मांगी है। सीबीएससी की उन दलालों को हाईकोर्ट ने ठुकरा दिया है जिसमें इस याचिका को खारिज करने की मांग की गई थी।

हाईकोर्ट ने इस मामले की सुनवाई 6 अप्रेल 2018 को तय की है। अधिवक्ता राकेश कुमार के माध्यम से याचिकाकर्ता अनु यादव ने हाईकोर्ट को बताया कि नाट 2018 के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 13 मार्च 2018 था। उन्होंने कहा कि आवेदन तो पंजीक्रत हो गया था। लेकिन तकनीकी कारणों से व परीक्षा में शामिल होने के लिए जो परीक्षा शुल्क 1400 रुपये थी वो जमा नहीं कर पाए थे।

Leave a Reply