सेंट्र्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन ने आज नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट का रिजल्ट जारी कर दिया हज़ारो के संख्या में उम्मीदवार अपने रिजल्ट की आस लगाए बैठे थे और सीबीएसई ने आज उनका इंतज़ार खत्म कर दिया। आज दोपहर में नीट 2018 का रिजल्ट जारी  परीक्षा के बाद से ही अपने रिजल्ट का इंतज़ार कर रहे उम्मदवारो के लिए राहत का समय है। रिजल्ट के जारी होते ही हर किसी के चेहरा कुछ अलग ही बयां करता है किसी के चेहरे पर ख़ुशी होती है तो कोई बस शांत सा खड़ा हो जाता है कही कोई उछल  रहा होता है तो कोई स्थिर सा रहता है कहते हैं न जितने लोग उतने चेहरे वैसे ही जितने उम्मीदवार उतने अलग अलग चेहरे।

ये भी पढ़ें : नीट 2018 कट-ऑफ यहाँ से देखें।

नीट (NEET 2018) का रिजल्ट घोषित होते ही हर कोई अभी अपने अंक देखने में लगा पर कही न कही हर कोई यह जानना चाहता है कि आखिर किसने पूरे देश में टॉप किया है और टॉपर के कितने अंक आये जिससे वह पूरे देश में लाखों उम्मीदवारों से आगे रहा। तो हम आपको बता दे कि नीट जैसी कठिन परीक्षा जिसे उमीदवार एक बार में निकालना बड़ी बात मानते हैं वही कल्पना कुमारी ने नीट की परीक्षा में आल इंडिया लेवल पर टॉप किया है जी हाँ कल्पना कुमारी ही हैं वह जिनके नीट (NEET 2018)  की परीक्षा में सबसे ज्यादा अंक आये हैं। कल्पना कुमारी बिहार से हैं। अब आखिर इनके कितने अंक आये हैं यह भी हम आपको बता दे कल्पना कुमारी ने फिजिक्स में 180 में से 171 अंक हासिल किये हैं और केमिस्ट्री में 180 में से 160 और बायोलॉजी में 360 में से 360 अंक हासिल किये हैंऔर 99.99 परसेंटाइल रहा है।

नीट 2018 में देश में दूसरी तीसरी ऐसी रैंक लाने वाले विद्यार्थियों के बारे में हम आपको यहाँ बता रहे आप इनके अंक जो इन्होने नीट की परीक्षा में हासिल किये जिनकी वजह से ये बाकी उम्मीदवारों से आगे रहे देख सकते हैं।

आल इंडिया रैंक उम्मीदवार का नाम  अंक प्राप्त  स्टेट 
01 कल्पना कुमारी 691 बिहार
02 रोहन पुरोहित 690 तेलंगाना
03 हिमांशु शर्मा 690 दिल्ली
04 आरोश धमीजा 686 दिल्ली
05 प्रिंस चौधरी 686 राजस्थान
06 वरुण मुप्पीदी 685 Other
07 अग्रवाल कृष्णा आशीष 685 महाराष्ट्र
08 अंकडाला अनिरुद्ध बाबू 680 आंध्र प्रदेश
09 माधवन गुप्ता 680 पंजाब
10 रामनीक कौर महल 680 पंजाब

ये भी पढ़ें : नीट रिजल्ट 2018 की जाँच यहाँ से करें।

NEET 2018 की परीक्षा में देशभर के करीब 14 लाख स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया था।इनमें से 11,36,206 भारतीय नागरिक थे, 1,522 एनआरआई थे, 480 ओसीआई थे, वहां 69 पीआईओ और 613 विदेशी थे। पंजीकृत उम्मीदवारों में से 43.64% पुरुष थे और 56.36% महिलाएं थीं; जैसा कि देखा जा सकता है, लड़कियों की बड़ी संख्या राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा में दिखाई देती है। 2016 में नीट के केवल 52 शहरों की तुलना में, परीक्षण 2017 में 102 शहरों में आयोजित किया गया था। परीक्षा का आयोजन 6 मई को किया गया था। परीक्षा 11 भाषाओं जिनमें हिंदी, इंगलिश उर्दू और 8 क्षेत्रीय भाषाएं भी शामिल हैं। जिसके लिए 66 हजार एमबीबीएस व डेंटल सीटों के लिए चयन किया जाना है।नीचे हमने नीट 2018 के सभी टॉपर्स की सूची दे रखी है। अपवाहन से देख सकते हैं की इस वर्ष नीट में टॉप – 50 विद्यार्थियों के कितने अंक आये।

Aakash NEET 2020 Preparation Apply Now!!

अपने विचार बताएं।