भारतीय सेना, नौसेना तथा वायुसेना में अधिकारी पद पर जाने के लिए आपको रक्षा मंत्रालय द्वारा स्थापित कुल 11 ssb सेंटर में से किसी पर आपको पांच दिवसीय साक्षात्कार से गुजरना पड़ेगा जिसके बाद ही आपको भारतीय सेना, नौसेना तथा वायुसेना के कुल 08 ट्रेनिंग सेंटर में से किसी एक पर आपको ट्रेनिंग के लिए भेजा जायेगा। हम आपको जानकारी के लिए बता दें की आप चाहे शार्ट सर्विस कमीशन के लिए जा रहें हो या फिर परमानेंट कमीशन के लिए, किसी भी सेना में अधिकारी पद के लिए ज्वॉइन करने के लिए एसएसबी इंटरव्यू से गुजरना ही पड़ेगा।  आज के इस लेख में हम जहाँ आपको सेवा चयन बोर्ड की साक्षात्कार चयन परीक्षा के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे वहीं उसके विभिन्न केन्द्रो के बारे में भी सूचना उपलब्ध कराएँगे।

एसएसबी इंटरव्यू क्या है, क्या होता है 05 दिनों की प्रक्रिया में।

एसएसबी इंटरव्यू प्रोसेस में कैसे प्रश्न पूछें जाते है या किन सवालों का जवाब देना पडता है  इन सब बातों को जानने से पहले आपको यह जानना अत्यंत आवश्यक है कि एसएसबी केंद्रों में प्रत्येक दिन कैसे टास्क कराये जाते हैं। देश की सैन्य सेनाओं में अधिकारी पद के चयन के लिए एसएसबी केंद्र प्रत्येक अभ्यर्थी के शारीरिक, बौद्धिक तथा व्यक्तिगत योग्यताओं का विशेष परिकलन किया जाता है। हम आपको एसएसबी इंटरव्यू की विस्तृत परिचर्चा से पूर्व सेवा चयन बोर्ड के केन्द्रो की लिस्ट प्रदान करा रहें है की कौन सा चयन बोर्ड किस सेना के लिए साक्षात्कार का उत्तरदायित्व लेता है।

सेव् चयन बोर्ड के केंद्रों की सूचना :

  • भारतीय सेना के लिए साक्षात्कार आयोजक सेवा चयन बोर्ड 

चयन केंद्र पूर्व (SCE) अलाहाबाद, उत्तर प्रदेश

  1. 11 SSB
  2. 14 SSB
  3. 18 SSB
  4. 19 SSB
  5. 34 SSB

चयन केंद्र सेंट्रल (SCC) भोपाल, मध्य प्रदेश

  1. 20 SSB
  2. 21 SSB
  3. 22 SSB

चयन केंद्र दक्षिण (SCS) बंगलुरु, कर्नाटक

  1. 17 SSB
  2. 24 SSB
  • भारतीय नौसेना के लिए साक्षात्कार आयोजक सेवा चयन बोर्ड 

चयन केंद्र दक्षिण (SCS) बंगलुरु, कर्नाटक

  1. 12 SSB

चयन केंद्र सेंट्रल (SCC) भोपाल, मध्य प्रदेश

  1. 33 SSB

नौसेना चयन बोर्ड कोयंबटूर, तमिलनाडु

नौसेना चयन बोर्ड विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश

  • भारतीय वायु सेना के लिए साक्षात्कार आयोजक सेवा चयन बोर्ड 
  1. वायु सेना चयन बोर्ड (AFSB) देहरादून, उत्तराखंड
  2. वायु सेना चयन बोर्ड (AFSB) मैसूर, कर्नाटक
  3. वायु सेना चयन बोर्ड (AFSB) गाँधी नगर, गुजरात
  4. वायु सेना चयन बोर्ड (AFSB) वारणशी, उत्तर प्रदेश

एसएसबी साक्षात्कार पांच दिवसीय प्रक्रिया

एसएसबी साक्षात्कार में सम्मिलित होने के लिए आपको विभिन्न चयन परीक्षाओं जैसे NDA/NA, CDS, AFCAT, TES, SSC (T) तथा UES आदि से गुजरना पड़ता है।  एसएसबी के लिए चयन या तो लिखित परीक्षाओ से होता है या फिर पत्र अभ्यर्थिओं को सीधे एसएसबी साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार में बुलाने के लिए सेवा चयन बोर्ड कॉल लेटर (SSB Call Letter) आवंटित करता है जिसे लेकर अभ्यर्थी को सम्बंधित तिथि को समय से एसएसबी केंद्र पर पहुंचना होता है। एसएसबी परमानेंट तथा शार्ट सेर्वेस कमिशन के लिए आने वाले अभ्यर्थिओं के लिए एक-एक बार यात्रा भत्ता भी प्रदान करती है।  अभ्यर्थी को चयन केंद्र पर पहुंचकर अपने सभी दस्तावेजों को सत्यापन कराना होता है।  किसी भी दस्तावेज में त्रुटि या फिर अनुपलब्धता की स्थिति में भ्यर्थी को एसएसबी देने के लिए अपात्र घोषित कर दिया जाता है।  अभ्यर्थी एसएसबी में इंटरव्यू में जाने से पूर्व अपने सभी दस्तावेज जरूर साथ ले जाएँ यह सूचना विशेषकर उन अभ्यर्थिओं के लिए है जो अपने स्नातक के अंतिम वर्ष में होते हैं उन्हें अपने डायरेक्टर से सत्यापित अंक पत्र, विद्यार्थी सत्यापन प्रमाण पत्र तथा एक्विवैलेन्ट सर्टिफिकेट इत्यादि ले जाना अत्यन ही आवश्यक होगा।

  1. रिपोर्टिंग/स्क्रीनिंग टेस्ट (screening test)
  2. मनोवैज्ञानिक/मानसिक  परीक्षण (psychological test)
  3. समूह परिक्षण अधिकारी परीक्षा (Group Testing Officers’ Task -GTO) तथा व्यक्तिगत साक्षात्कार
  4. समूह परिक्षण अधिकारी परीक्षा (Group Testing Officers’ Task -GTO) तथा व्यक्तिगत साक्षात्कार
  5. सम्मेलन/परिणाम (conference)

DAY ONE – रिपोर्टिंग/स्क्रीनिंग टेस्ट (screening test)

पहले दिन परीक्षार्थी को अगर दस्तावेज-सत्यापन पहले दिन हो चूका है तो सीधे सामान्य बौद्धिक परीक्षा से गुजरना पड़ता है अन्यथा पहले सत्यापन होता है। पात्र अभ्यर्थी बौद्धतिक परीक्षा से गुजरते हैं जिसमे अभ्यर्थी की तर्क शक्ति, मात्रात्मक एवं अन्य सामान्य प्रश्न होते हैं जिससे यह पता चल सके की अभ्यर्थी के अंदर अधिकारी बनाने योग्य कुशलता है या नहीं।

बौद्धिक परीक्षा के पश्चात् चित्र धारणा और विवरण परीक्षा (Picture Perception and Description Test – PPDT) का आयोजन होता है जिसमे अभ्यर्थी को 30 सेकण्ड्स के लिए एक काली एवं सफ़ेद धुंधली तस्वीर (black and white sketch) दिखाई जाती है जिसके बाद प्रत्येक अभ्यर्थी क 01 मिनट का सोचने का समय दिया जाता है और फिर 04 मिनट का समय उस छवि के बारे में एक कहानी लिखने का दिया जाता है। स्केच में आपको कुल पत्रों की संख्या, उनकी आयु तथा लिंग के बारे में बताना होगा तथा कहानी रूपरेखा के बारे में भी लिखा जाना चाहिए। इसके बाद प्रत्येक अभ्यर्थी को अपनी कहानी के आधार पर परिचर्चा में भाग लेना होता है।  इस परिचर्चा में आपको अपनी कहानी को सही साबित करते हुए सभी को सहमत भी करना होता है। परिचर्चा के बाद सभी अभ्यर्थिओं को दोपहर के भोजन के लिए भेज दिया जाता है जिसके बाद बौद्धतिक परीक्षा तथा परिचर्चा के परिणाम सुनाये जाते हैं। पहले दिन चयनित अभ्यर्थी ही सेवा चयन बोर्ड के केंद्र पर अन्य चार दिन भी रहने के पात्र होते हैं बाकि के छात्रों को वापस जाना होता है।  उत्तीर्ण छात्रों को फिर से ें नई chest no. आवंटित की जाती है जिसके नाम से ही वो अगले 04 दिन पहचाने जाते हैं।

DAY TWO – मनोवैज्ञानिक/मानसिक  परीक्षण (psychological test)

अभ्यर्थी की मनोवैज्ञानिक स्थिति एवं उसकी व्यक्तिगत सोंच को जानने के लिए पहले दिन चयनित उम्मीदवारों से लगातार 04 परीक्षाएं ली जाती हैं।

  1. विषयगत मानसिक बोध परीक्षा (Thematic Appreciation Test – TAT)
  2. शब्द मेल परीक्षा (Word Association Test – WAT)
  3. स्थिति प्रतिक्रिया परीक्षा (Situation Reaction Test – SRT)
  4. स्वविवरण परीक्षा (Self Description)

विषयगत मानसिक बोध परीक्षा, एसएसबी साक्षात्कार के अंतर्गत आने वाला दूसरा चित्र धारणा से सम्बंदित टेस्ट है। इस परीक्षा के माध्यम से अभ्यर्थी के अवचेतन मनोस्थिति का पता लगाया जाता है।  तस्वीर देख कर अभ्यर्थी के मन में कुआ आता है वो क्या सोंचता है, उसके विचारों का विश्लेषण करके अभ्यर्थी के व्यक्तित्व का मूल्यांकन किया जाता है।

शब्द मेल परीक्षा, एसएसबी साक्षात्कार में मनोवैज्ञानिकों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली दूसरी तकनीक है जिसके जरिये वो अभ्यर्थिओं के सोचने के दृष्टिकोण को समझने की कोशिश करते हैं। इस परीक्षा में अभ्यर्थी को रोजमर्रा में प्रयोग होने वाले शब्द दिए जाते हैं जिनसे अभ्यर्थी को वाक्य बनाना होता है। उदहारण के लिए शब्द “बन्दूक” को सुन कर एक अभ्यर्थी लिखेगा की बन्दूक से हत्या की जा सकती है वहीं दूसरा अभ्यर्थी ये भी लिखेगा की बन्दूक सुरक्षा के लिए होती है।  इन सब वाक्यों को पढ़कर मनोवैज्ञानिक आसानी से अभ्यर्थी के व्यक्तित्व के बारे में जान लेते हैं।

स्थिति प्रतिक्रिया परीक्षा, शब्द मेल परीक्षा के तुरंत बाद ली जाती है। इस परीक्षा मे अभ्यर्थी को एक प्रश्न पत्र दिया जाता है तथा अलग से उत्तर पुस्तिका दी जाती है। प्रत्येक उत्तर के लिए सिर्फ 2 से 3 लाइन ही दी जाती हैं जिसमे अभ्यर्थी को छोटा तथा अर्थ पूर्ण उत्तर लिखना होता है। अभ्यर्थी को दी गयी स्थिति में खुद को रख कर उत्तर लिखना होता है की वो उक्त परिस्थिति में क्या करेगा। अभ्यर्थी को वास्तविक तथा संभव उत्तर ही लिखना चाहिए।

स्वविवरण परीक्षा में अभ्यर्थी से उसके बारे में, उसके अभिभावक, माता-पिता, दोस्तों या फिर अध्यापकों के बारे में लिखने को कहा जाता है।  अभ्यर्थी को लिखना होता है की वो पूछे गए व्यक्ति या फिर अपने बारे में क्या सोचता है, कौन कौन सी कमीयां है या कहाँ  कहा सुधार की आवश्यकता है और कौन कौन सी बातें उसे पसंद हैं। इस परीक्षा के बाद दुसरे दिन के सारी परीक्षाएं खत्म हो जाती हैं।

DAY THREE AND FOUR – समूह परिक्षण अधिकारी परीक्षा (Group Testing Officers’ Task -GTO) तथा व्यक्तिगत साक्षात्कार 

indoor tasks

  • समूह चर्चा – Group Discussion.(G.D)
  • समूह नियोजन अभ्यास या सैन्य योजना अभ्यास – Group Planning Exercise or Military Planning Exercise.(G.P.E or M.P.E)
  • व्याख्याता (Individual Lecturette)

outdoor tasks

  • प्रगतिशील समूह कार्य Progressive Group Task.(P.G.T)
  • आधा समूह कार्य Half Group Task.(H.G.T)
  • व्यक्तिगत बाधाए Individual Obstacles(I.O)
  • कमान कार्य Command Task.(C.T)
  • नाग दौड़ (Snake Race or Group Obstacle Race)
  • अंतिम समूह कार्य Final Group Task(F.G.T)

समूह चर्चा समूह परिक्षण अधिकारी परीक्षा का पहला और महत्वपूर्ण चरण है।  ग्रुप डिस्कशन में अभ्यर्थिओं को सामाजिक और वर्तमान में चल रहे मुद्दों पर परिचर्चा करनी होती।

समूह नियोजन अभ्यास या सैन्य योजना अभ्यास के अंतर्गत समस्यायों का समूह दिया जाता है जिसमे प्रत्येक अभ्यर्थी की खुद व अपनी टीम की मदद से वहां उपस्थित संसाधनों का उपयोग करना चाहिए। GTO अभ्यर्थिओं से उम्मीद करता है की वो अपनी लीडरशिप क्वालिटी को निखार कर दिखाएँ तथा अपनी व् अपने समूह की समस्यायों को हल करके प्रत्येक प्रकार से सफल बनायें।

व्याख्याता वाले चरण में प्रत्येक भ्यर्थी को अपने समूह के बारे में बोलकर प्रतिक्रिया देनी होती है जिसके लिए प्रत्येक अभ्यर्थी को 4 विषय मिलते है उनमे से किसी एक को चुनकर उसे बोलने के लिए 04 मिनट का सोचने का वक्त मिलता है।

प्रगतिशील समूह कार्य के तहत अभ्यर्थिओं को दिए गए मैदान में शारीरिक मेहनत करनी पड़ती है  यह कार्य समूह नियोजन अभ्यास या सैन्य योजना अभ्यासके तुरंत बाद होता है। इस कार्य को करते वक्त अभ्यर्थी को अपने साथ कुछ भार भी रखना होता है।  कार्य  सहायता के लिए अभियार्थी को बल्ली, रस्सी इत्यादि उपलब्ध कराई जाती है।

आधा समूह कार्य भी प्रगतिशील समूह कार्य की तरह ही होता है बस इस टास्क को करने के लिए समूह को दो भागों में विभाजित कर दिया जाता है जिससे प्रत्येक व्यक्ति को अपने विचारों को समस्या समाधान में समाहित किया जा सके।

व्यक्तिगत बाधाए प्रत्येक अभ्यर्थी को दी जाती है।  इस कार्य के लिए 10 मिनट का समय दिया जाता है अभ्यर्थी के कार्य स्तर को देख कर उसके साहस, सहनशीलता तथा अन्य कौशलों का अंदाजा लगाया जाता है।

कमान कार्य भी शारीरिक गतिविधि है जिसके तहत प्रत्येक अभ्यर्थी को कमाण्डर द्वारा नामित किया गया कार्य 15 मिनट में करना होता है।  ये कार्य प्रगतिशील समूह में कराये गए कार्यों की तरह ही होते हैं।

नाग दौड़ में समूह को लगभग 2 मीटर लम्बी जूट या कपडे से बनी मोटी रस्सी को पकड़ कर दौड़ना होता है कठिनाइयों को पार करते समय काम से काम 3 अभ्यर्थिओं को रस्सी पकड़ कर रखनी होती है। यह गतिवधि तसमूह के अभ्यर्थिओं की टीम स्पिरिट को दर्शाता है।

अंतिम समूह कार्य भी एक बाहरी कार्य है जिसमे शारीरिक गतिवधि कराई जाती है इसमें प्रगतिशील समूह के सामान ही कठिनाइया दी जाती हैं जिन्हे समय रहते ही समूह में एक दुसरे की मदद करते हुए कठिनाइयों को हल किया जाता है।

DAY FIVE – सम्मेलन/परिणाम (conference)

इस दिन प्रत्येक उम्मीदवार की साक्षात्कार पैनल से बात होती है जिसके बाद पैनल प्रत्येक अभ्यर्थी के पांचों दिनों के परिणामो का विश्लेषण करके उम्दा उम्मीदवारों का चयन किया जाता है। चयनित उम्मीदवार को सेना, नौसेना या वायुसेना के ट्रेनिंग सेंटर में भेज कर अधिकारी पद के लिए ट्रेनिंग दी जाती है। बचे हुए उम्मीदवारों को एसएसबी केंद्र से रेलवे स्टेशन तक छोड़ दिया जाता है।

12वीं के बाद सेना, नौसेना तथा वायुसेना में भर्ती की संपूर्ण जानकारी यहां से लें।

LPUNEST 2019 Apply Now!!

2 टिप्पणी

अपने विचार बताएं।