केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) के 11 वें संस्करण के लिए एक अधिसूचना जारी की है। सेंट्रल विद्यालयों, केन्द्रीय तिब्बती स्कूलों और जवाहर नवोदय विद्यालय जैसे केंद्रीय शासकीय विद्यालयों (यूटी) के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत स्कूलों के अलावा केंद्रीय सरकारी स्कूलों में कक्षा 1 से 8 तक शिक्षण पदों के लिए सीटीईटी आयोजित किया जाता है। सीटेट परीक्षा 2018 के लिए अब आपके पास कम समय रह गया है। और आपको अगर इस बार या अपने पहले प्रयास में ही पास करना है तो आपको थोडी़ मेदनत करना होगी। और अगर महनत के साथ साथ अगर आपको सीटेट परीक्षा 2018 के लिए कुछ महत्तवपूर्ण टिप्स मिल जाएं तो आपके लिए काम आसान हो जाएगा। इसलिए आज हम आपके लिए एक ऐसा आर्टिकल लेकर आए हैं जो आपको कम समय में साटेट परीक्षा 2018 पास करने में मदद करेगा।

कैसे करें कम समय में सीटेट परीक्षा 2018 की तैयारी

सीबीएसई की वेबसाइट के अनुसार, सीटीईटी 2018, 16 सितंबर 2018 को आयोजित किया जाएगा। सीटीईटी परीक्षा के लिए लगभग दो महीने शेष हैं। उम्मीदवारों को अपनी तैयारी शुरू कर देनी होगी। रणनीति की योजना बनाने के लिए यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण समय है। इस शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए प्रतियोगिता बहुत अधिक होंगे क्योंकि सीटेट परीक्षा 2018, 2016 में आयोजित की गई थी। उसके बाद अब की जा रही है। और पहले प्रयास में ही परीक्षा को पास करना इतना आसान काम नहीं है। तो आइए आगे बढ़ते हैं और आपको बताते हैं कि आप किन करीकों से अपनी तैयारी को और भी अच्छा कर सकते हैं।

सबसे पहले देंखे परीक्षा पैटर्न 

सीटेट परीक्षा 2018 के लिए सबसे पहले परीक्षा पैटर्न को देंखे। क्योंकि जब तक आप किसी भी परीक्षा के लिए परीक्षा पैटर्न  को नहीं समझेंगे ततो आप परीक्षा के तैयारी नहीं कर पाएंगे। इसलिए सबसे पहले अपनी परीक्षा परीक्षा पैटर्न को न सिर्फ देंखे बल्कि उसको अच्छ् से समझें। सीटीईटी परीक्षा में दो पेपर होते हैं। आप दोंनो पेपर के परीक्षा पैटर्न के समझें उसके बाद आगे की तैयारी करें।

सीटेट सिलेबस 2018 को पढें

जब आप एक बार सीटेट 2018 परीक्षा पैटर्न को समझ लेंगे उसके बाद आपके लिए सबसे जरूरी होगा सिलेबस को पढ़ना। क्योंकि जब तक आप सिलेबस को नहीं देंखे आपको यही नहीं पता चलेगा कि आपको किस में से कितना पढ़ना है। जब आप ये समझ लेंगे कि आपको कितना पढ़ना है तो आप अपने समय को उसी हिसाब से बांट पाएंगे।

शोर्ट नोट्स जरूर बनाएं

कुछ भी पढे़ते समय ये जरूर याद रखें कि आपको कुछ भई ऐसा लग रहा है कि आप इसको अलग से नोट करके रख सकते हैं तो जरूरी रखें। सभी पोईंट्स को एक अलग कॉपा में लिखकर अपने नोट्स तैयार करें। जिससे आपको परीक्षा के समय उन चीजों को पढ़ने के लिए अपनी किताबों में न खोजना पढ़े।

स्टडी प्लान बनाएं

सबसे पहले, परीक्षा की तैयारी के लिए एक रणनीति की योजना बनाएं। योजना आपके कार्य को अनुकूलित करने का सबसे अच्छा तरीका है। अच्छी अध्ययन समय सारणी बनाएं और अपनी क्षमता का विश्लेषण करने के लिए समय भी लें। अपने प्रदर्शन की जांच के लिए साप्ताहिक ऑनलाइन मॉक टेस्ट श्रृंखला लें।

स्पीड पर रखें ध्यान

इस परीक्षा को पास करने के लिए आपके पास अच्छी गति होनी चाहिए। हम सभी को सलाह देते हैं कि आप अधिक से अधिक अभ्यास करें क्योंकि केवल अभ्यास ही प्रश्नों को हल करने के लिए आपकी गति बढ़ा सकता है।

कोई प्रश्न न छोड़ें

कोई नकारात्मक अंकन नहीं है इससलिए किसी भी प्रश्न को न छोड़ें। इस परीक्षा के सर्वोत्तम हिस्सों में से एक यह है कि इस परीक्षा में कोई नकारात्मक अंकन नहीं है। नकारात्मक अंकन का कोई नियम परीक्षा में भाग लेने वाले उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण लाभ नहीं है। अगर आप उचित उत्तर नहीं जानते हैं तो भी अनुमानित विकल्प को चिह्नित करें।

सीटेट परीक्षा 2018 में इन गलतियों को करने से बचें

  • प्रश्न पत्र सही ढंग से पढ़ें।
  • एक ही प्रश्न पर अपना समय बर्बाद मत करो।
  • घबराएं मत शांत रहें और प्रश्न हल करें।
  • विश्वास न खोएं।
  • पहले उन प्रश्नों का प्रयास करें जिनके लिए आप 100% सुनिश्चित हैं।
Banasthali Vidyapith 2019 Apply Now!!

10 टिप्पणी

    • देखिये डीएलएड एक कोर्स है और सीटीईटी एक परीक्षा है, जिसमे पास होने पर अध्यापक बनने के लिए पात्र होंगे। डीएलएड वाले सीटीईटी की परीक्षा दे सकते हैं।

अपने विचार बताएं।