ट्रेवल एंड टूरिज्‍म में आप बना सकते है बेहतरीन करियर

आज कल दिन-प्रति-दिन लोकप्रिय हो रहें है। ट्रेवल एंड टूरिज्म कोर्स । भारत वर्ष में ऐसे बहुत छात्र है जो 12वीं कक्षा और ग्रेजुएशन के बाद ट्रेवल एंड टूरिज्‍म में अपना करियर बनाने की चाह रखते है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से टूरिस्ट गाइड जॉबटूरिज्म क्या है,पर्यटक गाइड योग्यताटूरिस्ट गाइड कैसे बने, टूरिज्म कोर्स क्या होता है, टूरिज्म गाइड में करियर, टूर गाइड, टूरिस्ट गाइड जॉब और पर्यटन नौकरियों की पूरी जानकारी देंगे। देखा गया है कि ट्रेवल एंड टूरिज्म कोर्स को लेकर छात्रों में बहुत से सवाल होते है। आज उन्हीं सवालों के हल खोजने की कोशिश करेंगे। अगर आप भी टूरिज्म में करियर बनाने की सोच रहें है तो आपके लिए यह आर्टिकल बहुत ही फायदेमंद साबित होगा। ट्रेवल एंड टूरिज्म कोर्स करने के बाद आपके पास कई फील्डों में जाने का मौका होता है। आइये फिर टूरिस्ट गाइड जॉब के बारे में नीचे विस्तार से चर्चा करते हैं। टूरिज्म में करियर बनाने के लिए आगे पढ़ें।

ये भी पढ़े :-सही करियर का चुनाव कैसे करें? अपना करियर कैसे बनाये?

ट्रेवल एंड टूरिज्‍म में आप बना सकते है बेहतरीन करियर

आप में ऐसे बहुत लोग होंगे जिनको घूमना बहुत पसंद होगा। अगर आपको घूमना अच्छा लगता है और देश की विरासत, संस्कृति और देश विदेश की बेहतरीन जगह देखना चाहते है और साथ में अच्छे रूपये भी कमाना चाहते है तो आपके लिए ट्रेवल एंड टूरिज्म कोर्स बहुत ही अच्छा है। हर साल दुनिया के करोड़ो लोग एक जगह से दूसरी जगह घूमते रहते है। आने वाले समय में ट्रेवल एंड टूरिज्म के क्षेत्र में रोजगार की संभावना और अधिक देखी जा रही है। जानकारी के मुताबिक भारत में ट्रेवल एंड टूरिज्म का बाजार 2020 तक 48 बिलियन तक पहुंच जायेगा। इसका सीधा फायदा उन छात्रों मिलेगा जो अपना करियर ट्रैवल एंड टूरिज्‍म में बनाने की सोच रहें हैं।

ट्रेवल एंड टूरिज्‍म कोर्स में कैसे करें एंट्री

अगर आपको घूमना पसंद है और साथ घूमाने के भी शौकीन है तो इस फिल्ड में सीधे एंट्री कीजिये। एंट्री करने के से पहले आपको विदेशी और अंग्रेजी भाषा का ज्ञान जरूर होना चाहिए। आपकी कम्युनिकेशन स्किल ऐसी होनी चाहिए कि आप जल्दी से अनजान लोगों के बीच जल्दी घूल-मिल जाये। साथ ही आपकी ट्रेवल और जियोग्राफी पर अच्छी पकड़ होनी चाहिए। इतिहास, कल्चर, आर्किटेक्चर आदि का नॉलेज होना भी जरूरी है। अगर आप में यह सब काबिलियत है तो आप वर्ल्ड ट्रेवल एंड टूरिज्म कोर्स में आसानी से एंट्री कर सकते है।

कौन-सी होती है जॉब प्रोफाइल 

आपको बता दें कि हर क्षेत्र की अलग-अलग जॉब प्रोफाइल होती है। ऐसा ट्रेवल और टूरिज्म क्षेत्र में भी होता है। जो लोग ट्रेवल और टूरिज्म में काम करते है उन लोगों को ट्रेवल से संबंधित कई काम करने होते है। जैसे, ट्रेवल प्लानर, टूर प्लानर, गॉइड, जैसे काम के साथ ही आपको क्लाइंट जिस जगह पर घूमने जा रहा है वहां का मौसम कैसा है, वहां रुकने के लिए क्या इंतजाम रहेगा, वहां पर घूमने के कौन-कौन से स्पॉट है, टिकिट बुकिंग, होटल बुकिंग और टैक्सी बुकिंग जैसे काम करने होते है। शुरू में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। लेकिन बाद इन सभी काम को करते-करते अनुभव हो जाता है।

ट्रेवल एंड टूरिज्‍म की कुछ महत्वपूर्ण बातें जरूर याद रखें 

अगर आप ट्रेवल से जुड़ी यह सारी बातें ध्यान रखते है तो आप ट्रैवल एंड टूरिज्‍म में अपनी एक अलग पहचान बना सकते हैं। अगर आप किसी जगह जा रहें है तो सबसे पहले आपको उस जगह का छोटा एवं सुरक्षित रास्ता कौन-सा है ,वहां पहुंचने का तरीका क्या है, क्या वहां जाने के लिए कुछ कागजात चाहिए, ठहरने की जगह कौन सी अच्छी है, मुद्रा विनिमय की दर क्या है, वहां का मौसम कैसा है, वहां घूमने की जगह कौन-कौन सी अच्छी हैं इत्यादि जानना जरूरी हैं । टूरिस्ट की रुचि, आवश्यकता और बजट के मुताबिक इन्हें सारा प्रबंध करना होता है। अगर आप वर्ल्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म की यह सारी बातें ध्यान रखोगें तो आप एक अच्छे टूर गाइड सकते हो।

ट्रेवल एंड टूरिज्म नौकरियां 

 

 

हाल-ही में वर्ल्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल की एक रिपोर्ट के दौरान बताया गया है कि नए वीसा सुधार, अतुल्य भारत अभियान और सरकार द्वारा इंफ्रास्ट्रक्चर पर ज्यादा जोर दिए जाने से भारतीय ट्रैवल एंड टूरिज्म उद्योग में आने वाले वर्षों में और तेजी आने की उम्मीद है। जानकारों के मुताबिक बीते कुछ वर्षों में करीब 9 प्रतिशत (3.74 करोड़) लोगों को टूरिज्म सेक्टर में रोजगार मिला। अगर हम वर्ष 2015 की बात करें तो भारत में ट्रैवल एंड टूरिज्म उद्योग की विकास दर लगभग 7.5 प्रतिशत रही। वहीं, देश की भौगोलिक और सांस्कृतिक-ऐतिहासिक विरासत ऐसी है कि दक्षिण एशिया घूमने आने वाले करीब 50 प्रतिशत पर्यटक हर साल भारत आना पसंद करते हैं। यही वजह है कि टूरिज्म सेक्टर में युवाओं के लिए नौकरियां की संभावनाएं लगातार बढ़ रही हैं। आप भी टूरिज्म सेक्टर में अपनी जगह बना सकते है । नीचे हम आपको ट्रैवल एंड टूरिज्‍म कोर्स के कुछ बेहतरीन संस्थान बताएँगे।
ट्रेवल एंड टूरिज्म में आप कौन-कौन से कोर्स कर सकते हो 
अगर आप ट्रेवल और टूरिज्म में अपना करियर बनाने की सोच चुके हो तो आपको ट्रेवल और टूरिज्म शैक्षित योग्यता पर भी एक नज़र जरूर डालनी चाहिए। आप इस ट्रेवल और टूरिज्म कोर्स को 12वीं या ग्रेजुएशन कर सकते हो। अगर आपको इस क्षेत्र में 12वीं कक्षा के बाद प्रवेश करना है तो आप ट्रेवल और टूरिज्म फिल्ड में तीन साल की डिग्री के लिए आवेदन कर सकते हो। जैसे बीए, बीबीए, बीएचटीएम, बीएससी आदि कर सकते है। वहीं हम ग्रेजुएशन करने के बाद टूरिज्म में एमए, एमबीए, आदि के प्रोग्राम कर सकते हो। आपको बता दें कि बहुत से संस्थान ने इस फिल्ड में 6 महीने का सर्टिफिकेट कोर्स और 1 साल का पीजी डिप्लोमा भी करवाना शुरू कर दिया है।
आप कौन-से कोर्स कर सकते हो 
  • इंटीग्रेटेड डिप्लोमा इन ट्रैवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट।
  • सर्टिफिकेट कोर्स ऑन एयरलाइंस टिकटिंग एंड टूर प्‍लानिंग
  • बैचलर ऑफ टूरिज्म स्टडीज
  • फाउंडेशन एंड कंसल्‍टेंट कोर्स इन टूरिज्‍म लैंग्‍वेज
  • ट्रैवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट कोर्स
  • ग्रेजुएट इंटिग्रेटेड कोर्स इन टूरिज्‍म
  • बैचलर इन टूरिज्‍म एडमिनिस्‍ट्रेशन
  • डिप्‍लोमा इन टूरिज्‍म मैनेजमेंट
  • डिप्‍लोमा इन टूरिज्‍म एंड डेस्टिनेशन
  • मास्‍टर इन टूरिज्‍म
  • पीजी डिप्‍लोमा इन ट्रैवल मैनेजमेंट
ट्रेवल और टूरिज्म कोर्स के लिए बेहतरीन संस्थान 
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टूरिज्म एंड ट्रेवल मैनेजमेंट, नई दिल्ली
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • गार्डन सिटी कॉलेज, बैंगलुरू
  • इंस्टिट्यूट ऑफ लॉजिस्टिक्स एंड एविएशन मैनेजमेंट, मुंबई
  • एकेडमी ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट, टूरिज्म एंड रिसर्च, बैंगलुरू
  • बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी
  • लखनऊ यूनिवर्सिटी, यूपी
  • आंध्र यूनिवर्सिटी, विशाखापट्टनम

कोर्स के लिए फीस 

ट्रेवल और टूरिज्म कोर्स के लिए उम्मीदवारों से डिग्री और पोस्‍ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए सालाना लगभग फीस 10 से 25 हजार रुपए तक होती है। सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स के लिए और कम फीस होती है।

कोर्स करने के बाद कहा मिलेंगे मौके 

  • पर्यटन विभाग :  इससे संबंधित कोर्स करने के बाद उम्मीदवार को पर्यटन विभाग में नौकरी मिल सकती है। आप पर्यटन विभाग में रिजर्वेशन एंड काउंटर स्टाफ, सेल्स एंड मार्केटिंग स्टाफ, टूर प्लानर्स, टूर गाइड की नौकरी कर सकते हैं।
  • एयरलाइंस :- एयरलाइंस की सबसे अच्छी नौकरी मानी जाती है। यह क्षेत्र ट्रेवल और टूरिज्म का सबसे खास हिस्सा मना जाता है। इस एयरलाइंस में आप एयर होस्टेस, ग्राउंड सपोर्ट एंड एयरपोर्ट मैनेजमेंट, एयरलाइन ग्राउंड ऑपरेशन, एयरलाइन टिकिटिंग, होटल मैनेजमेंट या टूरिज्म जैसे कोर्स करके यहां ग्राउंड स्टाफ या इन-फ्लाइट एसोसिएट, ट्रैफिक असिस्टेंट, रिजर्वेशन एंड काउंटर स्टाफ, क्लाइंट सर्विसिंग स्टाफ के रूप में करियर बना सकते हैं।
  • ट्रेवॅल एजेंसीज :- इस फिल्ड में उम्मीदवार ट्रेवल एजेंट्स का काम कर सकते हैं। आज कल ट्रेवल एजेंसीज की बहुत लोकप्रियता बहुत बढ़ चुकी है। उम्मीदवार के पास कस्टमर के साथ बेहतर डील करने वालों के लिए यह बेहतरीन जॉब है।
  • होटल क्षेत्र :- अगर हम ट्रेवल और टूरिज्म की बात करें और होटल की बात ना करें तो बेकार है। जैसे होटलों की संख्या पढ़ रहीं है वैसे ही इस क्षेत्र में रोजगार की बढ़ोतरी हो रही है।
  • टाइम शेयर कंपनीज :- संसार में ऐसी बहुत ही कंपनियां है जो हॉलिडे रिसॉर्ट को मैनेज करने का काम करवाती है। आप उन कंपनियों के साथ बिज़नेस टाई-अप का काम कर सकते हो। इन कंपनियों को काफी उम्मीदवारों की जरूरत होती है।

कितना कमा सकते है आप 

उम्मीदवार को शुरूआती सैलरी 15 से 20 हजार प्रति महीना होती है। लेकिन धीरे-धीरे अनुभव होने के बाद उम्मीदवारों की सैलरी 40 हजार से लेकर 1 लाख रूपये प्रति महीना हो जाती है। इससे पता चलता है कि इस क्षेत्र में रोजगार की संभावना बहुत अधिक हैं।

अपने विचार बताएं।