यूपी बोर्ड समय सारणी 2019

यूपी बोर्ड समय सारणी 2019 जारी कर दिया गया है। यह टाइम टेबल 2019 की परीक्षा के लिए जारी किया गया है। छात्रों को टाइम टेबल का इंतजार था। ताकि छात्र समय से अपनी परीक्षा की तैयारी कर सकें। समय से टाइम टेबल जारी तो कर दिया गया है। लेकिन लगता है छात्र टाइम टेबल से खुश नहीं है। इसका कारण दो अहम और कठिन पेपर के बीच काई अवकाश नहीं है। आपको बता दें कि गणित और भौतिक विज्ञान की परीक्षा में एक दिन का भी गैप नहीं है। जिसके कारण छात्र मायूस और टेंशन में है। जहां गणित की परीक्षा 21 फरवरी 2019 को है। वहीं भौतिक विज्ञान की परीक्षा 22 फरवरी 2019 को है। इसे देखकर अंदाजा लगा सकते है की छात्रों को काफी दिक्कत हो सकती है।

कुछ छात्रों के लिए तो और भी ज्यादा परेशानी हो सकती है। जिन छात्रों के पास कंप्यूटर, गणित और भौतिकी तीनों विषय हैं। उनके लिए 2019 की बोर्ड की परीक्षा परेशानी दे सकती है।  इन उम्मीदवारों को उसी दिन दो परीक्षाओं के लिए तैयार रहना होगा। छात्रों को कंप्यूटर और गणित दोनों परीक्षा के लिए 21 फरवरी, 2019 के लिए उपस्थित होना होगा। और फिर उन्हें अगले दिन 22 फरवरी, 2019 भौतिकी की परीक्षा देने के लिए तैयार रहना होगा। यह देखकर हम कह सकते है की छात्र अभी से ही कितनी टेंशन में होगे।

कंप्यूटर की परीक्षा सुबह के समय आयोजित की जाएगी। इसलिए छात्रों को उसी दिन 8:00 बजे से 11:15 बजे तक उपस्थित होना होगा। और फिर छात्रों को गणित की परीक्षा के लिए उपस्थित होना होगा। गणित की परीक्षा 2:00 बजे से शाम 5:15 बजे तक आयोजित की जाएगी। और छात्रों को 22 फरवरी 2019 की परीक्षा के लिए भी तैयार रहना होगा। अगले दिन भौतिक विज्ञान की परीक्षा होगी। और छात्रों को भौतिकी परीक्षा के लिए भी एक दिन का अंतर नहीं मिलेगा। इसलिए उन्हें शाम के समय ही भौतिकी परीक्षा (22 फरवरी को) के लिए नामांकन करना होगा।

इसे देखकर हम साफ कह सकते है की छात्र बहुत तनाव में है। यूपी बोर्ड समय सारणी 2019 ने वैसे ही इतनी टेंशन होती है। अब इस टाइम टेबल ने छात्रों की परेशानी और ज्यादा बड़ा दी है। छात्रों कम से कम एक परीक्षा स्थगित करने के लिए बोर्ड से अनुरोध कर रहे हैं। हालांकि, उत्तर प्रदेश मध्यम शिक्षा परिषद ने आधिकारिक वेबसाइट पर समय सारणी जारी नहीं की है। अनुमान लगा सकते है की समय सारणी में परिवर्तन हो सकता है। इस प्रकार छात्रों को शांत रहने के लिए कहा गया है। और बोर्ड के फैसले का इंतजार करने की सलाह दी जाती है।

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षा 7 फरवरी, 2019 से शुरू होगी। 10वीं की बोर्ड परीक्षा 28 फरवरी, 2019 को समाप्त होगी। जबकि 12वीं के छात्रों को 2 मार्च, 2019 तक बोर्ड परीक्षाओं के लिए उपस्थित होना होगा। कुल 59.9 लाख छात्र यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित होगें। इस साल 8.5 लाख छात्रों की कमी है। पिछले साल छात्रों की संख्या 66.4 लाख थी। 10वीं की परीक्षाओं के लिए कुल छात्रों की संख्या 32 लाख है। जिसमें 23,944 छात्र निजी श्रेणी से हैं। 12वीं की परीक्षाओं के लिए कुल छात्र 25.8 लाख हैं, जिनमें से 68,440 निजी श्रेणी से हैं।

अपने विचार बताएं।