उत्तर प्रदेश सरकार ने चकबंदी लेखपाल की भर्ती निरस्त कर दी है। गौरतलब है कि यूपीएसएसएससी चकबंदी लेखपाल भर्ती 2019 के लिए आवेदन की प्रक्रिया 06 मार्च 2019 से शुरू हो गई थी। भर्ती रद्द करने की जानकारी उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के आधिकारिक वेबसाइट पर नोटिस के माध्यम से जारी किया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि चकबंदी लेखपाल भर्ती 2019 में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) वर्ग के उम्मीदवारों के लिए एक भी भर्ती नहीं निकाली गई। उत्तर प्रदेश की सरकार ने इस बात को गंभीरता से लेते हुए भर्ती की प्रक्रिया को निरस्त करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश की सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश भी दिए हैं।

गौरतलब है कि चकबंदी लेखपाल की सीधी भर्ती में कुल 1364 पदों के लिए आवेदन जारी किए गए। कुल 1364 पदों में से सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए कुल 1002 रिक्त पदों पर भर्तियां जारी की गई। वहीं अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों के लिए कुल 362 रिक्त पदों के लिए भर्तियां जारी की गई। अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए एक भी पद नहीं जारी किया गया।

अपर मुख्य सचिव, राजस्व रेणुका कुमार ने उत्तर प्रदेश के चकबंदी आयुक्त पत्र भेज कर जवाब मांगा है। अपर मुख्य सचिव, राजस्व ने पत्र के माध्यम उन कारणों को पूछा है जिनके तहत अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के लिए एक भी पद जारी नहीं किया गया है। उन्होंने इस बात पर भी जवाब मंगा है कि ओबीसी और एसटी वर्ग का आरक्षण कोटा अगर पहले से ही भरा हुआ है तो ऐसा किन परिस्थियों में हुआ है। अपर मुख्य सचिव, राजस्व ने चकबंदी आयुक्त को जरुरी कार्यवाई करते हुए इस कार्यवाई से शासन से अवगत करने का निर्देश भी दिया है।

गौरतलब है कि यूपीएसएसएससी चकबंदी लेखपाल भर्ती 2019 के लिए आवेदन पत्र दिनांक 6 मार्च 2019 को जारी किया गया। आवेदन करने की आखिरी तारीख दिनांक 5 अप्रैल 2019 तय की गई। इस भर्ती के लिए आवेदन पत्र में संशोधन करने की आखिरी तारीख दिनांक 12 अप्रैल 2019 तय की गई थी। इस भर्ती के लिए आवेदन केवल माध्यम से भरे जा रहे थे। आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों की न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष और अधिकतम आयु सीमा 40 वर्ष तय की गई। किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से 12वीं उत्तीर्ण उम्मीदवारों के लिए यूपीएसएसएससी चकबंदी लेखपाल भर्ती 2019 जारी किया गया।

चकबंदी लेखपाल भर्ती 2019 के दुबारा शुरू किए जाने पर सवालिया निशान लग गया है। उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा दिए गए जांच के आदेश के बाद अब देखना यह है कि चकबंदी आयुक्त ओबीसी और एसटी श्रेणियों के लिए भर्ती नहीं निकालने पर क्या जवाब देती है।

Mody University Apply Now!!

अपने विचार बताएं।